पटना, ऑनलाइन डेस्‍क। निर्वाचन आयोग (Election Commission) द्वारा पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस (TMC) की अध्‍यक्ष ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के चुनाव प्रचार (Election Campaign) पर रोक लगाने को लेकर बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। तेजस्वी यादव ने कहा है कि निर्वाचन आयोग भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सेल की तरह काम कर रहा है। वह बीजेपी कागुलाम बन गया है। तेजस्‍वी ने भारतीय जनता पार्टी के राज्‍यसभा सांसद सुशील मोदी के राष्‍ट्रीय जनता दल अध्‍यक्ष लालू प्रसाद यादव व उनके परिवार के खिलाफ किए गए ट्वीट पर भी पलटवार किया।

ममता बनर्जी के चुनाव प्रचार पर लगाया 24 घंटे का प्रतिबंध

विदित हो कि निर्वाचन आयोग ने भड़काऊ भाषण देने के आरोप में ममता बनर्जी पर 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार पर प्रतिबंध लगाया है। इसके विरोध में ममता बनर्जी कोलकाता में धरना पर बैठ गई हैं। दिल्‍ली से पटना लौटे तेजस्‍वी यादव ने इस मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

बंगाल में टीएमसी को मिला आरजेडी का बिना शर्त समर्थन

साथ पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में तेजस्‍वी यादव के आरजेडी ने ममता बनर्जी के टीएमसी को बिना शर्त समर्थन दिया है। आरजेडी वह चुनाव मैदान में नहीं है, लेकिन उसका समर्थन टीएमएसी को है।

सुशील मोदी पर बरसे तेजस्‍वी: बीजेपी ने लगा दिया किनारे

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ बीजेपी सांसद सुशील मोदी के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए तेजस्वी ने कहा कि सुशील मोदी अब राजनीति से आउट ऑफ सीन हैं। बीजेपी ने उन्‍हें किनारे लगा दिया हे। वे चर्चा में बने रहने के लिए बेवजह बोलते रहते हैं। मधुबनी हत्‍याकांड में उनके ट्वीट का क्या हुआ, यह सभी लोग जानते हैं।

सुशील मोदी ने ट्वीट में लालू व परिवार को ले कहीं ये बातें

विदित हाे कि सुशील मोदी ने मंगलवार को चार ट्वीट कर लालू प्रसाद यादव पर हमला किया। उन्होंने लिखा कि लालू ने अपने कुशासन काल में बिहार के लाखों लोगों को पलायन के लिए मजबूर कर दिया। उन्‍होंने अपराधियों का दुस्साहस बढ़ाया और सत्ता के लिए सौ से अधिक नरसंहार होने दिए। विकास को ठप कर लोगों को बेरोजगार किया तथा पशुओं के चारा तक में हजार करोड़ का घोटाला किया। एक अन्‍य ट्वीट में लिखा कि लालू को जो सजा मिली है, उसे पूरा कर वे अपने किए का प्रायश्चित करें। सुशील मोदी ने यह भी लिखा है कि लालू न ठीक से हिंदू हो पाए, न इस्लाम की शिक्षा ले सके। कोई भी धर्म गरीबों-दलितों को सताने के लिए नहीं कहता है। अपने एक अन्‍य ट्वीट में वे लिखते हैं कि लालू की जमानत पर रिहाई के लिए परिवार के जो सदस्य व्रत और रोजा, दोनों रखने करने की बात कर रहे हैं, वे दरअसल किसी भी उपासना पद्धति के प्रति ईमानदार नहीं हैं। लालू परिवार ने सत्ता और संपत्ति के लिए ईश्वर और अल्लाह को भी धोखा देने की कोशिश की है।

कोरोना को ले सरकार तेजी से करे काम, लोग बरतें सावधानी

तेजस्वी यादव ने बिहार में कोरोनावायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर भी प्रतिक्रिया दी। कहा कि सरकार को तेजी से काम करना होगा। साथ ही लोगों को भी सावधानी बरतनी होगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप