पटना [प्रशांत कुमार]। मुंबई के मोस्ट वांटेड व कुख्‍यात दाउद उब्राहिम के शूटर एजाज युसूफ लकड़ावाला को मुंबई क्राइम ब्रांच और बिहार एसटीएफ की संयुक्त टीम ने पटना में पकड़ा। इसके बाद करीब आधे घंटे की प्रारंभिक पूछताछ के दौरान मोबाइल पर आए एक कॉल ने उसके बिहार कनेक्‍शन का खुलासा कर दिया। फिर, उसने बिहार में अपने पनाहगार तथा आगे की योजनाओं का खुलासा किया।

पटना के बस स्‍टैंड से किया गया गिरफ्तार

विदित हो कि कुख्‍यात एजाज को पटना के मीठापुर बस स्‍टैंड पर तब पकड़ा गया, जब बुधवार को वह एक बस से बिहार के दरभंगा जाने की तैयारी में था। गिरफ्तारी के बाद मुंबई पुलिस उसे मुंबई ले गई। इसके पहले उससे पटना के जक्‍कनपुर थाना में पूछताछ की गई। इस दौरान केवल मुंबई क्राइम ब्रांच के अधिकारी थे।

एक कॉल ने खोल दिया पनाहगार का राज

पूछताछ के क्रम में ही एजाज के मोबाइल पर एक कॉल आया, जो 18 सेकेंड तक रिंग होने के बाद कट गया। कॉल करने वाले के बारे में पूछा गया तब एजाज ने बताया कि वह दरभंगा जिले के जाला का रहने वाला है। एजाज ने बताया कि वह युवक निर्दोष है। नेपाल में कारोबार करने वाले एक मौलाना ने उस उसका नंबर दिया था। कहा था, उस युवक को नौकरी का लालच देकर कई काम करवाए जा सकते हैं। फिर एजाज से उस युवक से संपर्क किया।

फर्जी पासपोर्ट बनवा भागने की थी योजना

एजाज ने बताया कि वह नेपाल से वीरगंज-रक्‍सौल बॉर्डर के रास्ते भारत में घुसा, फिर छोटी गाड़ी लेकर पटना आया। आगे वह पटना के मीठापुर बस स्टैंड से दरभंगा जाने वाला था, जहां दो युवक उसका इंतजार कर रहे थे। इनमें एक वही युवक था, जिसका नंबर नेपाल में मौलाना ने दिया था। एजाज उस युवक के घर पर एक दिन ठहरकर अपना आधार कार्ड बनवाता और उसकी सहायता से फर्जी पासपोर्ट बनवा देश से भाग जाता।

दरभंगा में एक युवक देने वाला था पनाह

एजाज ने बताया कि वह पटना से दरभंगा जाने के बाद जिस युवक के घर पर रुकता उसके पहचान पत्र पर ही मोबाइल का सिम कार्ड लेने से लेकर होटल की बुकिंग तक सारे काम करता। एजाज ने उसे अच्छी नौकरी के साथ ऐशो-आराम की जिंदगी देने का वादा किया था।

एजाज के बिहार कनेक्‍शन की पड़ताल शुरू

पटना के एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि मुंबई क्राइम ब्रांच की चार सदस्यीय टीम डिप्टी कमिश्नर शहाजी उमाप के नेतृत्व में पटना आई थी। टीम गिरफ्तार एजाज को लेकर बुधवार की दोपहर ही फ्लाइट से वापस मुंबई लौट गई। इस बीच बिहार पुलिस एजाज के बिहार कनेक्‍शन की पड़ताल में जुट गई है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस