पटना, जेएनएन। सोमवार की देर रात अशोक राजपथ पर पटना विश्वविद्यालय के छात्र और स्थानीय लोगों के बीच हिंसक झड़प और बवाल में एक की मौत के मामले में पुलिस ने पीयू के छात्र नेता सहित 28 उपद्रवी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पटना विश्वविद्यालय के कई हॉस्टलों को खाली कराकर सील कर दिया गया है। इनमें मिंटो, जैक्सन, इकबाल, नदवी और नूतन हॉस्टल शामिल हैं। सभी को सील कर दिया गया है। वारदात में शामिल एक दर्जन से अधिक छात्रों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।

दो दिन से सुलग रही थी आग

दरअसल, शनिवार को कैंटीन में खराब खाना परोसने को लेकर कैवेंडिस और मिंटो हॉस्टल के छात्रों ने अशोक राजपथ में जमकर हंगामा और मारपीट की थी। इस दौरान कुछ छात्रों ने एक युवती पर फब्तियां कस दीं थीं, जिसका विरोध करने पर लालबाग निवासी युवक की पिटाई भी की थी। उस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आठ छात्रों को हिरासत में लिया था।

सोमवार देर शाम उसी मुकदमे में तीन स्थानीय नागरिक पीरबहोर थाने में अपना बयान दर्ज कराने गए थे। जब मिंटो और जैक्सन हॉस्टल के छात्रों को इसकी जानकारी हुई तो वे आक्रोशित हो गए। एकाएक दर्जनों छात्र हाथ में लाठी-डंडे लेकर कैंपस से बाहर निकले और लालबाग मोहल्ले की दुकानों पर हमला बोल दिया। वे दुकानों पर पथराव करने के साथ स्थानीय लोगों की पिटाई करने लगे।

स्थानीय लोगों के विरोध करने पर छात्रों ने ताबड़तोड़ फायरिंग करनी शुरू कर दी। स्थानीय लोगों ने भी जवाबी फायरिंग की। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, छात्रों की ओर से तीन बम भी फेंके गए। इस दौरान पास की दुकान पर चाय पी रहे एक बेकसूर युवक की मौत हो गई। देर रात पुलिस ने विश्‍वविद्यालय के हॉस्टलों में छापेमारी कर 20 छात्रों को हिरासत में लिया।

पथराव में एक युवक की मौत

वारदात के क्रम में पथराव में एक दुकान पर चाय पी रहे स्‍थानीय सब्जीबाग निवासी शौकत (45) के सिर पर एक पत्थर आ गिरा, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद स्थिति और बिगड़ गई। इस दौरान पूरा इलाका गोलीबारी व बम विस्‍फोट से थर्राता रहा। अशोक राजपथ स्थित पटना विवि के गेट के बाहर आधी रात तक बवाल चलता रहा।

देर रात तक चला बवाल

सूचना मिलने पर आधा दर्जन डीएसपी के नेतृत्व में पुलिस के 200 जवानों ने पहुंचकर स्थित पर नियंत्रण किया। देर रात करीब एक बजे एसएसपी गरिमा मलिक भी अशोक राजपथ पहुंची। पुलिस ने उपद्रवी छात्रों को खदेड़ भगाया। आधी रात के बाद भी स्थानीय लोग अशोक राजपथ पर डटे रहे। इस दौरान वाहनों का आवागमन ठप रहा।

Posted By: Akshay Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप