गया, जेएनएन। म्यांमार के 22 संदिग्ध नागरिक मंगलवार की रात 10:34 बजे दिल्ली जाने वाली हावड़ा-नई दिल्ली राजधानी स्पेशल ट्रेन से दिल्‍ली भेजे गए। वे गया में इमीग्रेशन की हिरासत में रखे गए थे। उनके खिलाफ दिल्ली पुलिस की ओर से लुकआउट नोटिस जारी है। नोटिस के अनुसार उन्‍हें तीन जून तक दिल्ली पुलिस के सामने हाजिर होना है, इसलिए वे मंगलवार की रात हावड़ा-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन से दिल्ली भेजे गए।

यंगून जाने के पहले पकड़े गए

बता दें कि म्यांमार के 22 संदिग्ध नागरिक बीती 27 मई को कोलकाता से सड़क मार्ग से गया एयरपोर्ट पर पहुंचे थे। उन्हें गया से म्यांमार इंटरनेशनल एयरवेज की उड़ान से यंगून जाना था, लेकिन गंतव्य के लिए रवाना होने से पहले इमीग्रेशन द्वारा जारी पर्याप्त दस्तावेज न होने के कारण उन्‍हें रोक लिया गया था। जांच में यह भी पता चला कि इन नागरिकों के खिलाफ दिल्ली पुलिस की ओर से लुकआउट नोटिस जारी है।

स्पेशल ट्रेन से भेजे गए दिल्ली

इसके बाद जिला प्रशासन ने उन्हें इमीग्रेशन विभाग की कस्टडी में दे दिया था। पूछताछ के बाद उन्हें बोधगया के सुजाता विहार होटल में रखा गया था। जिला प्रशासन की ओर से उनके खाने-रहने की व्यवस्था कराई गई थी। लुकआउट नोटिस जारी होने के कारण इन नागरिकों को तीन जून तक दिल्ली पुलिस के सामने हाजिर होना था। इसी कारण उन्‍हें मंगलवार की रात हावड़ा-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन से दिल्ली रवाना किया गया।

गया के एसएसपी ने कही ये बात

गया के एसएसपी राजीव मिश्रा ने बताया कि दो जून को जाने के लिए ट्रेन का टिकट उन्हीं नागरिकों ने करवाया था। बोधगया थाने की पुलिस ने सभी को मंगलवार की देर शाम गया जंक्शन पर ट्रेन पर बिठा दिया। ट्रेन गया जंक्शन के प्लेटफॉर्म नंबर-एक पर पहुंची तो सभी अपने एसी कोच में सवार हो गए। गया जंक्शन से ट्रेन के रवाना होने के बाद बोधगया पुलिस भी चली गई।

यह भी प़ढ़ें: जनता के नाम संदेश में बोले CM Nitish: बिहार में अब शुरू होगी पढ़ाई, बाहर से लौटे लोगों को मिलेगा राेजगार

 

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस