पटना, जागरण संवाददाता। कड़क आवाज और कदमताल मिलाकर किए जा रहे परेड से ठिठुरती सुबह में भी जवानों के भीतर गर्मजोशी मौजूद थी। हाथों में तलवार थामे बिहार रेजिमेंटल सेंटर के मेजर साहिल मसंद परेड कमांडर के रूप में गांधी मैदान में मौजूद थे। सेकेंड कमांडेंट के रूप में सूबेदार राजेंद्र प्रसाद सिंह उनका साथ दे रहे थे। परेड कमांडर ने मुख्य मंच के सामने आकर कहा - श्रीमान,  गणतंत्र दिवस परेड आपके निरीक्षण के लिए हाजिर है। उसके बाद प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने खुली जीप में परेड की टुकड़ियों का निरीक्षण प्रारंभ किया। ये दृश्य था गणतंत्र दिवस के अवसर पर आयोजित होने वाले राजकीय समारोह के अंतिम और फूल ड्रेस रिहर्सल का। 26 जनवरी को इसी तरह राज्यपाल परेड की टुकड़ियों का निरीक्षण करेंगे।

गणतंत्र दिवस के दिन तिरंगे को सलामी देने के लिए 17 टुकड़ियां मैदान में मौजूद रहेंगी। सीआरपीएफ, सशस्त्र सैन्य बल, एसएसबी,  आइटीबीपी,  एसटीएफ,  बीएमपी वन, बीएमपी महिला, जिला सशस्त्र बल,  जिला सशस्त्र बल महिला, होमगार्ड शहरी,  होमगार्ड शहरी महिला, एनसीसी आर्मी ब्वॉयज , एनसीसी आर्मी गर्ल्स, एनसीसी एयरफोर्स, एनसीसी नेवी के साथ छह यूनिट श्वान दस्ता और एक यूनिट फायर बिग्रेड भी परेड में शामिल रहेगा। रिहर्सल के दौरान भी सभी टुकड़ियां मौजूद थीं। इन टुकड़ियों का परेड के अतिरिक्त दस झांकियां भी निकाली जाएंगी।

कला संस्कृति एवं युवा विभाग द्वारा बुद्ध सम्यक दर्शन संग्रहालय-सह-स्मृति स्तूप, पर्यटन निदेशालय द्वारा वैशाली कोल्हुआ से जुड़े मुख्य पर्यटक स्थल, भवन निर्माण विभाग द्वारा बापू टावर,  कृषि विभाग द्वारा बिहार कृषि निवेश प्रोत्साहन नीति 2020 और शिक्षा विभाग द्वारा ऑनलाइन शिक्षा- वक्त की जरूरत थीम पर झांकी निकाली जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं, महिला विकास निगम एवं जीविका द्वारा सशक्त महिला, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग व वन विभाग द्वारा इको टूरिज्म, जल संसाधन विभाग एवं लघु सिंचाई विभाग द्वारा हर खेत को पानी और उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान  व उद्योग विभाग द्वारा आत्म निर्भर बिहार थीम पर झांकी निकाली जानी है।

प्रमंडलीय आयुक्त ने बताया कि समारोह में प्रवेश सिर्फ आमंत्रण पत्र के आधार पर ही संभव होगा। कोरोना को देखते हुए एहतियात के तौर पर आमलोगों को समारोह में शामिल होने पर रोक रहेगी। आमलोगों के लिए विभिन्न माध्यमों से समारोह का लाइव प्रसारण की व्यवस्था होगी। उन्होंने कहा कि पूरे हर्षोल्लास और गरिमापूर्ण ढंग से गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा। रविवार को फुल ड्रेस रिहर्सल का जायजा लेने आए आयुक्त ने गांधी मैदान में ही प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों की ब्रीफिंग भी की। इस दौरान कई आवश्यक निर्देश दिए गए। पूरे समारोह के दौरान शारीरिक दूरी का पालन कर बैठने की व्यवस्था करने को कहा गया है। इसके लिए दो कुर्सियों के बीच दूरी रखी जाएगी। समारोह स्थल को सैनिटाइज करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

सोमवार को दो बार और 26 जनवरी को सुबह में व्यापक सैनिटाइजेशन किया जाएगा। प्रवेश द्वार पर भी सैनिटाइजर एवं थर्मल स्कैनर के साथ कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। सभी गेटों पर सुरक्षा के कड़े प्रबंध के लिए निर्देशित करते हुए आयुक्त ने कहा है कि थोड़ी सी भी लापरवाही पर सकती है भारी। समारोह में कोरोना योद्धाओं के लिए अलग से दीर्घा भी बनाई जाएगी। सेना के 12 जवानों को सैन्य सम्मान भी गणतंत्र दिवस के अवसर पर दिया जाएगा। रिहर्सल के दौरान जिलाधिकारी डॉ.  चंद्रशेखर सिंह, एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा , डीडीसी रिची पांडेय सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप