आरा, जागरण संवाददाता। लाइसेंसी हथियार को गांव के एक युवक को देकर भीड़भाड़ वाले इलाके में फायरिंग कराने को लेकर चर्चा में आए संदेश के पूर्व विधायक और जदयू नेता विजेंद्र यादव ने शुक्रवार को कोर्ट में आत्‍मसमर्पण कर दिया। इस मामले में विधायक पर शस्‍त्र लाइसेंस की शर्तों का उल्‍लंघन किए जाने का मामला गड़हनी थाने में दर्ज किया गया था। इस मामले में एक वीडियो वायरल होने के बाद भोजपुर पुलिस ने सख्‍त कदम उठाए और विधायक की बंदूक को भी जब्‍त कर लिया था। शुक्रवार को कोर्ट में समर्पण करने के साथ ही विधायक को जमानत भी मिल गई।

जमानत मिलने के बाद राहत महसूस कर रहे पूर्व विधायक

आरोपित पूर्व विधायक शुक्रवार को आरा सिव‍िल कोर्ट में अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी वन के कोर्ट में उपस्थित हुए। इसके बाद अधिवक्ता के माध्यम से जमानत के लिए अर्जी दाखिल की गई। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने आरोपित पूर्व विधायक को जमानत प्रदान कर दी। जमानत मिलने के बाद आरोपी पूर्व विधायक राहत महसूस कर रहे हैं। गौरतलब हो कि दो रोज पहले लाइसेंसी शस्त्रों के उल्लंघन को लेकर जदयू नेता व पूर्व विधायक विजेंद्र यादव के विरुद्ध गड़हनी थाना में केस हुआ था। घनी आबादी वाले एरिया में फायरिंग का आरोप था। पुलिस ने लाइसेंसी बंदूक को पहले ही जब्त कर लिया है।

तीन महीने पहले का वीडियो वायरल होते ही तत्‍पर हुई पुलिस

पूर्व विधायक के मुताबिक वायरल वीडियो तीन महीने पहले का था। उनका कहना है कि फायरिंग बंदूक की टेस्टिंग के लिए हो रही थी। यह मामला दिवाली के आसपास का है। वायरल वीडियो में पूर्व विधायक एक मकान की बालकोनी में खड़े हैं और उनके सामने खड़ा लड़का बंदूक से हवाई फायरिंग कर रहा है। यह वीडियो रिहायशी इलाके का था। भोजपुर एसपी तक मामला पहुंचने के बाद उन्‍होंने मामले में प्राथमिकी दर्ज करने और बंदूक को जब्‍त करने का आदेश दिया था।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप