पटना [जेएनएन]। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह गुरुवार को पटना में पार्टी की चुनावी तैयारियों को धार देने पहुंचे।  साथ ही उन्‍होंने राजग के घटक दलों के बीच समन्यवय की कोशिश भी की। इस लिहाज से उनकी जदयू सुप्रीमो व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात महत्वपूर्ण रही। इसने राजग की एकजुटता का संदेश दिया।

अमित शाह के कार्यक्रम पर एक नजर
अमित शाह गुरुवार की सुबह 10 बजे पटना एयरपोर्ट पर पहुंचे। स्‍टेट हैंगर में दनका स्‍वागत उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी सहित भाजपा के तमाम बड़े नेताओं ने किया। उनके स्वागत में पटना एयरपोर्ट पर बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय, बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, सह प्रभारी पवन शर्मा, सीआर पाटिल तथा राज्य सरकार में शामिल भाजपा कोटे के सभी मंत्री मौजूद रहे।
वहां से वे स्‍टेट गेस्‍ट हाउस पहुंचे, जहां मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने उनसे मुलाकात की। मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने मीडिया से बात करने से परहेज किया। अमित शाह ने भी कुछ नहीं कहा।

इसके बाद अमित शाह पटना के ज्ञान भवन पहुंचे, जहां वे पार्टी के आइटी सेल की बैठक में शामिल हुए। ज्ञान भवन के बापू सभागार में अमित शाह की मैराथन बैठकें हुईं । इनमें पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। अमित शाह ने तीन अलग-अलग बैठकों को संबोधित किया। इसके बाद शाह ने भाजपा कार्यालय और लाइब्रेरी का उद्घाटन किया।
अमित शाह ने स्‍टेट गेस्‍ट हाउस में भाजपा चुनाव तैयारी समिति की बैठक की। बैठक में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी के साथ नंदकिशोर यादव, मंगल पांंडेय, प्रेम कुमार, अश्विनी चौबे , अरुण कुमार सिन्हा समेत कई नेता शामिल रहे।
अंत में अमित शाह मुख्‍यमंत्री आवास पर रात्रि भोज में पहुंचे। रात्रि भोज के दौरान अमित शाह की नीतीश कुमार से बातचीत हुई। इसके बाद शाह देर रात वे राज्‍यपाल से शिष्‍टाचार मुलाकात करने गए।
शुक्रवार को पूर्वाह्न में वे पटना से प्रस्‍थान कर गए।
अमित शाह के स्‍वागत में भगवामय बनी राजधानी
अमित शाह के स्‍वागत में भाजपा ने राजधानी को भगवामय बना दिया गया था। एयरपोर्ट से शाह के कार्यक्रम स्‍थल बाबू सभागार तक 13 तोरण द्वार बनाए गए थे। वहां फूलों की बारिश और शंखध्वनि से उनका अभिनंदन किया गया। महिला मोर्चा की ओर से एयरपोर्ट से लोजपा कार्यालय के बीच 11 सौ महिलाओं ने पुष्प वर्षा की। वहीं 51 महिलाएं शंख बजातीं दिखीं।

By Amit Alok