मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पटना [जागरण टीम]। बिहार में रविवार को मासूमों की जल समाधि से कोहराम मच गया है। सारण व शिवहर में 10 बच्‍चों की डूबने से मौत हो गई है। सारण के इसुआपुर प्रखंड के डोईला गांव में सात बच्‍चे एक तालाब में स्‍नान करने के दौरान गहरे पानी में फंसकर डूब गए। उधर, शिवहर में भी अलग-अलग घटनाओं में तीन बच्‍चे डूब गए।
सारण में सात बच्‍चे डूबे, चार को बचाया
सारण जिला के इसुआपुर प्रखंड के डोईला गांव में सात बच्‍चे एक तालाब में स्‍नान करने के दौरान गहरे पानी में फंसकर डूब गए। जबकि, चार को बचा लिया गया। डोएला गांव के पानी भरे तालाब में नट जाति के 11 बच्‍चे स्‍नान करने गए थे। जानकारी के मुताबिक वे वहां अंदर अवैध खनन से बने गढ़े में फंस गए। इसके बाद एक-दूसरे को बचाने के क्रम में वे डूबते चले गए। परिजन व गांव के लोग बच्चों को निकालकर आनन-फानन में इसुआपुर  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ले गए, जहां सात को मृत घोषित कर दिया गया। जबकि, चार बच्‍चों को बचा लिया गया।
शिवहर में तीन बच्‍चों की डूबने से मौत
उधर, शिवहर जिले में भी रविवार की सुबह तीन बच्चों के डूबने से मौत हो गई। शिवहर थाना क्षेत्र के फतहपुर ब्राह्मण टोली में शोभित कुमार (10) घर के पास नदी में डूब गया। जिला के पिपराही थाना क्षेत्र के धनकौल निवासी मो. निजामुद्दीन (12) की मौत बागमती नदी के नाले में डूबने से हो गई। तीसरी घटना तरियानी थाना क्षेत्र के गंगा धरमपुर गांव में हुई, जहां स्कूल गए अमरजीत साह के पुत्र धीरज कुमार (6) का शव एक गड्ढे में मिला।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप