नवादा: हिसुआ प्रखंड के शचौल गांव के ग्रामीणों ने मानवीयता की अनूठी मिसाल पेश की है। ग्रामीणों ने एक बेघर हुए निशक्त का घर बनाने का जिम्मा उठाया है। बताया जाता है कि कुछ दिनों पूर्व आंधी-तूफान में शचौल निवासी चंदन ठाकुर का कच्चा मकान ध्वस्त हो गया था। पीड़ित को अपनी पत्नी कलावती के साथ दूसरे के घर में शरण लेना पड़ा था। चंदन पूर्व से ही आर्थिक तंगी के शिकार थे। दो जून की रोटी मुश्किल से नसीब होती थी। ऐसे में बेघर होने के बाद घर बनाना कल्पना से परे था। ऐसे में गांव के लोग सहयोग के लिए सामने आए। गांव के चिटू कुमार एवं किशोरी प्रसाद ने आपस में सलाह मशविरा कर ग्रामीणों के समक्ष प्रस्ताव रखा कि आपसी सहयोग से चंदन ठाकुर के घर को बना दिया जाए। उक्त दोनों के प्रस्ताव पर ग्रामीणों ने सहमति दे दी। आपसी सहयोग से राशि एवं अन्य सामान को जुटाकर चंदन का घर बनाने का काम शुरू किया गया है। सबसे पहले धराशाई मकान के मलवा को हटाने का काम ग्रामीणों द्वारा शुरू किया गया है।

बालू लदा ट्रक जब्त, चालक-उपचालक गिरफ्तार

हिसुआ : खनन विभाग की टीम ने हिसुआ थाना की पुलिस के सहयोग से गुरुवार की अल सुबह अवैध बालू लदे ट्रक को जब्त किया। मौके पर ही चालक व उपचालक को गिरफ्तार कर लिया। चालक अमर कुमार लखीसराय का निवासी बताया गया है। उपचालक नवादा जिला के धमौल ओपी क्षेत्र के जमढिया गांव का रहने वाला है। खनन विभाग के आवेदन पर चालक, उपचालक, ट्रक मालिक एवं ट्रक के विरूद्ध खनन अधिनियम की धारा में प्राथमिकी दर्ज की गई। पुलिस ने चालक एवं उपचालक को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। बालू थाना क्षेत्र के बेलारू बालू घाट से उठाव कर लखीसराय ले जाया जा रहा था। इसकी किसी ने सूचना खनन विभाग को दे दिया। इसके बाद मंझवे पहाड़ी के समीप ट्रक को जब्त कर लिया गया।

Edited By: Jagran