सूरत और त्रिपुरा से प्रवासियों को लेकर दो अलग-अलग श्रमिक स्पेशल ट्रेनें नवादा पहुंचीं। एक ट्रेन रविवार की देर रात सूरत से आई। जिसमें कुल 425 प्रवासी सवार थे। इसमें नवादा जिले के दो सौ प्रवासी थे। शेष नालंदा, बेतिया, समस्तीपुर, बेगूसराय जिले के थे। वहीं, दूसरी ट्रेन सोमवार की सुबह त्रिपुरा से प्रवासियों को लेकर पहुंची। इस ट्रेन पर 12 सौ प्रवासी सवार थे, जिसमें 450 प्रवासी नवादा जिले के थे। शेष सीतामढ़ी, जमुई, नालंदा, शेखपुरा, लखीसराय, मुंगेर समेत अन्य जिलों के लोग थे। नवादा स्टेशन पर अधिकारियों ने प्रवासियों का स्वागत किया। मेडिकल टीम ने उनकी थर्मल स्क्रीनिग की। इसके बाद उन्हें भोजन का पैकेट और पानी दिया गया। दूसरे जिलों के प्रवासियों को विशेष वाहन से भेजा गया। हॉट स्पॉट के रूप में चिह्नित सूरत से गृह जिला नवादा पहुंचे प्रवासियों को संबंधित प्रखंड के क्वारंटाइन सेंटर भेजा गया। जबकि त्रिपुरा से आए प्रवासियों को जांच के बाद उन्हें उनके घर भेज दिया गया। उन्हें होम क्वारंटाइन किया गया है। स्पेशल ट्रेन के नवादा पहुंचने से पहले स्टेशन को चारों तरफ से सील कर दिया गया, ताकि ट्रेन से उतरकर कोई भी प्रवासी इधर-उधर बगैर रजिस्ट्रेशन व जांच के नहीं जा सकें। प्रवासी श्रमिकों के स्वागत के लिए स्टेशन को सजाया गया था। ट्रेन के ठहरते ही माइकिग के जरिए प्रवासियों का स्वागत किया गया और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। प्रवासियों के स्वागत में स्टेशन पर रेड कार्पेट बिछाए गए और रंग-बिरंगे गुब्बारे से सजाया गया। प्रवासियों की सुविधा के लिए जिला प्रशासन की ओर से हर तरह की व्यवस्था की गई थी। मौके पर सिविल सर्जन डॉ. विमल प्रसाद सिंह, सदर एसडीओ उमेश कुमार भारती, सदर एसडीपीओ विजय कुमार झा, जिला पंचायती राज पदाधिकारी संतोष झा, बीडीओ कुमार शैलेंद्र, रेल विभाग के यातायात निरीक्षक केजी अवधेश कुमार सुमन, डीपीआरओ गुप्तेश्वर कुमार आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस