नवादा। वारिसलीगंज थाना क्षेत्र के मकनपुर ग्रामीण पिपिन साव की 15 वर्षीया पुत्री की मौत पोखर में डूबने से हो गई। घटना बुधवार को हुई। बताया गया कि श्रीसाव की बड़ी पुत्री अनिता कुमारी शौच के लिए घर से दो छोटी बच्चियों को लेकर गांव से दक्षिण अनुसूचित टोला के समीप स्थित पोखर के किनारे गई थी। पोखर की सफाई दो माह पूर्व किया गया था। फलत: जल निकासी के स्थान पर बने गढ़े को पार करने के दौरान बालिका का पैर फिसल गया और गहरे पानी में डूब गई। साथ रही बच्चियों के द्वारा शोर मचाने पर कुछ ग्रामीण पहुंचे और पोखर से ढ़ूंढ़कर बालिका को निकाला। लेकिन तबतक काफी देर हो चुकी थी। मौत की सूचना पर बीडीओ शंभू चौधरी पुलिस बल के साथ पहुंचे और मामले की जानकारी ली। बाद में पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नवादा भेज दी। मृतक के आश्रितों को सरकार प्रदत लाभ दिलवाने का बीडीओ ने भरोसा दिया है।

बताया जाता है कि मकनपुर पोखर की सफाई एवं घाट निर्माण का कार्य कराया जा रहा है। घाट निर्माण के दौरान पोखर से किसानों की खेतों तक पानी पहुंचाने वाली पईन में नाला बनाने के लिए उतरी किनारा में करीब 15 फीट घाट को छोड़ा गया है। इस बीच पोखर में पानी भर जाने के कारण नाला का निर्माण संभव नहीं हो पाया। तेज पानी का बहाव से उक्त नाला के स्थान पर काफी गढ़ा हो गया है। जिसे पार करने के दौरान किशोरी का पैर फिसल गया और वह पोखर में चली गई। जिससे उसकी मौत हो गई। घटना के बाद किशोरी की मां सुनीता देवी का रो रोकर बुरा हाल हो रहा था। जबकि 55 वर्षीया दादी और मृतका की छोटी बहन संगीता की कारूणिक क्रन्दन से सभी की आंखें नम हो जा रही थी। बताया गया कि मृत अनिता के पिता विपिन साव चंडीगढ़ में मजदूरी करते हैं। घटना के बाद मकनपुर के बढ़ई टोला में मातम छा गया है।

वारिसलीगंज प्रखंड के लिए सितम्बर माह का प्रथम सप्ताह काफी अशुभ साबित हुआ। पानी में डूबने से अबतक चार बच्चों की मौत हो चुकी है। बुधवार को मकनपुर पोखर में डूबने से 15 वर्षीया अनिता कुमारी की मौत हो गई। जबकि 02 सितंबर को दरियापुर के पास सकरी नदी में स्नान के दौरान वारिसलीगंज बाजार निवासी अभिषेक कुमार 16 वर्ष तथा हिमांशु कुमार 15 वर्ष की मौत हुई थी। वहीं नगर पंचायत की वार्ड संख्या 20 निवासी चमरू डोम के 3 वर्षीय नाती की मौत दो दिन पूर्व घर के पास स्थित आहर में डूबने से हो गई थी।

Posted By: Jagran