राष्ट्रीय लोक समता की पार्टी की ओर से शिक्षा व रोजगार के सवाल पर 24 जनवरी कर्पूरी जयंती के अवसर पर पूरे बिहार में मानव कतार का आयोजन किया गया है। कार्यक्रम के माध्यम से शिक्षा व रोजगार के सवाल पर सीएम के पाखंड को उजागर किया जाएगा। यह बातें जिला पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान पार्टी के प्रदेश महासचिव मिथलेश कुमार ने कही। उन्होंने कहा कि पार्टी की ओर से बिहार सरकार के छात्र और युवा विरोधी रवैये के खिलाफ 24 जनवरी को मानव कतार बनाकर गांव, शहर, गली, सड़क, चौक-चौराहा आदि पर परिचर्चा कर लोगों को अवगत कराया जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में बहार का वादा किया था। लेकिन एक भी वचन नहीं निभाया। बिहार की स्थिति बदहाल है और सीएम हरएक मोर्चे पर नाकाम साबित हो रहे हैं। रालोसपा युवा व छात्र विरोधी के खिलाफ मानव कतार बनाकर लोगों को जागरूक करेगी। लोगों को बताया जाएगा कि बिहार सरकार गरीब, दलितों और वंचितों को बेहतर शिक्षा देने में दिलचस्पी नहीं रखती है। और न ही रोजगार सृजन के प्रति गंभीर है। कार्यक्रम को लेकर व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। उन्होंने मानव कतार में जिले के लोगों को शामिल होने की अपील की। मौके पर रालोसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद, बेबी कुशवाहा, अजीत मेहता, मुसाफिर कुशवाहा, कमलेश कुमार आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस