- नौ दिनों तक मां दुर्गा की पूजा-अर्चना के बाद दी गई विदाई - शोभ मंदिर तालाब व कादिरगंज नदी में किया गया विसर्जन --------------------------- फोटो-04,15,16 --------------------------- जासं,नवादा : नगर के पूजा पंडालों में स्थापित मां दुर्गा व देवी देवताओं की प्रतिमाओं का विसर्जन रविवार व सोमवार की दोपहर तक कर दिया गया। शोभ मंदिर तालाब व कादिरगंज स्थित सकरी नदी में प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। जिला प्रशासन के निर्देशानुसार सुबह होते ही पूजा समिति के सदस्य प्रतिमा विसर्जन की तैयारी में जुट गए थे। पुलिस पदाधिकारी की मौजूदगी में प्रतिमाओं का बारी-बारी से विसर्जन किया गया। इसके पहले सभी पूजा-पंडालों में भक्ति-भाव के साथ माता की प्रतिमा की पूजा-अर्चना की गई। इसके बाद प्रतिमा को वाहन पर रखकर तालाब व नदी तक लाया गया। विसर्जन से पहले श्रद्धालुओं ने माता की आरती उतारी। और माता रानी का जयघोष किया। पुरानी परंपरा के अनुसार पूजा पंडालों में महिला श्रद्धालुओं ने विदाई के मौके पर माता का खोइंछा भरा। इस दौरान कई श्रद्धालु भावुक भी दिखे। मां दुर्गा की जय, शेरावाली मईया की जय का जयकारा लगाते हुए पूजा पंडालों से माता की प्रतिमा को विदाई दी गई। तालाब व नदी में प्रतिमा विसर्जन के दौरान पुलिस पदाधिकारी व जवान काफी चौकस दिखे। शांतिपूर्ण तरीके से प्रतिमा विसर्जन को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से चौकस दिखा। ------------------------ नवमी व दशमी को पूजा पंडालों में दिखा भीड़-भाड़ - नगर क्षेत्र में दुर्गा पूजा शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया। सप्तमी तिथि को मां का पट खुलने के बाद पूजा पंडालों में माता का दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी। लेकिन जिला प्रशासन द्वारा पूजा पंडाल के समीप भीड़-भाड़ लगाने की मनाहट थी। पूजा समिति के सदस्यों द्वारा माता दर्शन के बाद लोगों को हटा दिया जा रहा था। सभी पूजा पंडालों के पास पुलिस को तैनात किया गया था। अष्टमी तिथि तक पूजा पंडाल व बाजारों में लोगों की भीड़ कम रही। लेकिन नवमी व दशमी तिथि को देर रात तक पूजा पंडालों व बाजारों में काफी भीड़-भाड़ रही। संध्या होते ही लोग अपने परिवार व बच्चों के पूजा पंडाल व बाजार में घूमते दिखे। नगर के इंदिरा चौक, अस्पताल रोड, न्यू एरिया, पार नवादा समेत अन्य स्थानों पर भक्तों की काफी भीड़-भाड़ रही।

-----------------

प्रतिमा विसर्जित

संसू, गोविदपुर : गोविदपुर प्रखंड में रविवार की शाम को दुर्गा माता की मूर्ति का विसर्जन कर दिया गया। दुर्गापूजा समिति के अध्यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि यह साल कोविड 19 को लेकर दुर्गापूजा की पूजा तो हर्षोल्लास से हुआ। लेकिन मेला नहीं लगने से सादगी भरा था, फिर भी भक्तों की उल्लास में कमी नहीं देखी गई। समिति के सदस्यों व कुछ भक्तों के साथ कोविड 19 को देखते हुए सरकार का निर्देश का पालन करते हुए दुर्गा मां का मूर्ति का विसर्जन कर दिया गया। मौके पर समिति के सदस्य सजीवन कुमार चौधरी, शंकर मिस्त्री, रितेश कुमार, झनु बाबा, अजय कुमार समेत दर्जनों भक्त मौजूद थे।

-----------------

मां दुर्गा जी का प्रतिमा का हुआ विसर्जन

संसू, सिरदला : सिरदला बाजार समेत प्रखंड के सभी 11 स्थानों पर स्थापित मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन शांति पूर्ण तरीके से प्रशासन की देखरेख में किया गया। बताते चलें सिरदला फूल बगान चौक, सिरदला बीच बाजार, एवं सिरदला नीचे बाजार की प्रतिमा का विसर्जन बड़े धूम धाम से किया गया। साथ ही प्रखंड क्षेत्र के सांढ, बड़गांव, फतेहपुर, लौंद, पद्मौल, जमुंगाय, भटबिघा, केंदुआ आदि जगहों पर प्रशासन के निर्देश पर सोमवार को मूर्ति विसर्जन कराया गया।

--------------------

मां दुर्गा व माता काली की प्रतिमा विसर्जित

संसू,नारदीगंज : शारदीय नवरात्रा को लेकर नारदीगंज प्रखंड में स्थापित मां दुर्गा व माता काली की प्रतिमा को रविवार की रात में पूजा अर्चना बाद विसर्जित किया गया। मौके पर उपस्थित श्रद्धालुओं ने भक्तिभाव से माता की पूजा अर्चना कर मन्नतें मांगी। नारदीगंज बाजार के अलावा हंडिया,परमा,बस्तीबिगहा गांव में स्थापित मां की प्रतिमा के समक्ष पूजा अर्चना किया गया। इस अवसर पर शोभा यात्रा निकाली गयी। जय माता दी के उद्घोष से सारा वातावरण गूंजता रहा। मां की प्रतिमा की पूजा अर्चना को लेकर श्रद्धालुओं में काफी उत्साह देखा गया। इस अवसर पर प्रशासन व मजिस्ट्रेट काफी सक्रिय दिखे। मौके पर थानाध्यक्ष मोहन कुमार समेत अन्य पुलिस पदाधिकारियों ने पुलिस बल के साथ सक्रिय रहें। थानाध्यक्ष ने बताया शांतिपूर्वक व सौहार्दपूर्ण तरीके से दुर्गापूजा संपन्न हो गया।

----------------------

प्रखंड में शांति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाया गया दशहरा पर्व

संसू, वारिसलीगंज : विजयादशमी के साथ सोमवार को दुर्गा पूजा श्रद्धा भाव के साथ संपन्न हो गया। कोरोना संक्रमण व विधानसभा चुनाव को लेकर इस बार दुर्गा पूजा के दौरान चहल पहल नहीं रही। आस्था को लेकर भक्तों ने नवरात्रा के साथ महाअष्टमी महानवमी व विजया दशमी को मां दुर्गा की पूजा अर्चना कर अपने सुख समृद्धि की कामना किया। सोमवार की शाम वारिसलीगंज बाजार समेत प्रखंड के ग्रामीण के क्षेत्रों में स्थापित अधिकांश दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन कर दिया गया। जबकि अब भी कुछ गांवों में प्रतिमा का विसर्जन नहीं हो सका है। सौहार्द एवं शांतिपूर्ण दुर्गा पूजा संपन्न करवाने में पुलिस प्रशासन के अधिकारी काफी सक्रिय दिखे।

------------------

दूर्गापूजा हर्षोल्लास मना

संसू, अकबरपुर : असत्य पर सत्य, अन्याय पर न्याय, कटुता पर प्रेम, अहंकार पर विनम्रता, अनाचार पर सदाचार की जीत का प्रतीक दूर्गापूजा व विजयादशमी का त्योहार अकबरपुर में हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर श्रद्धालुओं ने विभिन्न मंदिरों व पूजा स्थलों पर मां दुर्गा की पूजा अर्चना कर सुख समृद्धि की कामना की। तत्पश्चात प्रशासन की देखरेख में सोमवार को कड़ी सुरक्षा के बीच पिरौटा पोखर व अन्य सरोवरों में मां दुर्गा की आरती उतारकर विसर्जन किया गया। अकबरपुर, फतेहपुर मोड़, नेमदारगंज के अलावे अन्य कई गावों में विशेष चहल पहल देखा गया। प्रतिमा विसर्जन के दौरान गाजे बाजे जुलूस व शोभायात्रा नहीं निकाले गये। बड़े ही सादगी पूर्वक विभिन्न पूजा समिति के अध्यक्षों व शोभा समिति के अध्यक्ष राजीव कुमार बॉबी की देखरेख में अलग- अलग प्रतिमा विसर्जन में सहयोग प्रदान किया। प्रतिमा विसर्जन के दौरान उपस्थित श्रद्धालुओं ने नम आंखों से दुर्गा मां की प्रतिमाओं की विदाई दी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021