सोमवार को कलेक्ट्रेट कक्ष में डीएम कौशल कुमार की अध्यक्षता में तकनीकी विभाग की समीक्षात्मक बैठक आयोजित हुई। इस दौरान रोड डिविजन के कार्यपालक अभियंता द्वारा थाली मोड़ से ककोलत एवं मंझवे से गोविन्दपुर सड़क की चौड़ीकरण की स्थिति के बारे में बताया गया। कार्यपालक अभियंता भवन विभाग की समीक्षा के क्रम में कार्याें की प्रगति के बारे में पूछा गया। डीएम ने सभी प्रखंडों में निर्माणाधीन अभिलेखागार की प्रगति की समीक्षा की गयी। उन्होंने अधूरे कार्य को पूर्ण करने का निर्देश दिया। उत्पाद भवन, वीवी पैट भण्डारण भवन, डीआरडीए भवन की मरम्मति, समाहरणालय, अतिथि गृह आदि के निर्माण कार्याें में तेजी लाने एवं पूर्ण करने का निर्देश डीएम द्वारा दिया गया। कार्यपालक अभियंता पीएचईडी के द्वारा बताया गया कि चापाकल निर्माण, सोलर पम्प, पशुनाद 14 जगहों पर, जलापूर्ति मेसकौर एवं कौआकोल का कार्य प्रगति पर है। आरडब्लूडी के कार्यपालक अभियंता से भदोखरा, नारदीगंज से नवादा सड़क निर्माण की जानकारी ली गयी। अकबरपुर चैराहा से पंचरूखी तक सड़क नाली का स्टीमेट बनाने का निर्देश दिया गया। अकबरपुर सड़क निर्माण के लिए अतिक्रमण हटाने एवं सीमांकण करने का निर्देश अंचलाधिकारी को दिया गया। एलएईओ विभाग के कार्यपालक अभियंता से समीक्षा की गयी। वारिसलीगंज में मंदिर की चाहरदिवारी निर्माण, कब्रिस्तान घेराबंदी, पंचायत सरकार भवन निर्माण, ई-किसान भवन निर्माण, 43 महादलित टोलों में वर्क शेड निर्माण की कार्याें की प्रगति से डीएम अवगत हुए। लघु ¨सचाई, पुल निर्माण निगम, भूमि संरक्षण की भी समीक्षा हुई। बैठक में सभी अंचलाधिकारी को डीएम ने कार्यों में तेजी लाने एवं सीमांकण का कार्य कराने का निर्देश दिया गया। इस बैठक में निर्देशक डीआरडीए वीणा प्रसाद, डीपीआरओ गुप्तेश्वर कुमार, कार्यपालक अभियंता पीएचईडी, आरडब्लूडी, भवन, एलएईओ, सभी अंचलाधिकारी आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran