नवादा। शहर के प्राइवेट पैथोलॉजी सेंटर में सोमवार को छापेमारी की गई। सदर एसडीएम अनु कुमार के नेतृत्व में छापेमारी अभियान चलाया गया। तय मानक के अनुसार मरीजों का जांच नहीं करने पर यह कार्रवाई की गई। इस दौरान पुरानी जेल रोड में चार पैथोलॉजी सेंटर को सील कर दिया गया। हालांकि किसी की गिरफ्तारी की सूचना नहीं है। छापेमारी की खबर जंगल में आग की तरह फैल गई और बाजार में हड़कंप मच गया। इसके बाद जांच घरों के शटर धड़ाधड़ गिरने लगे। केंद्रों के संचालक अपनी-अपनी दुकानों को फटाफट बंद कर निकल गए। जिसके बाद उन जांच घरों के बाहर नोटिस चस्पाया गया। सदर एसडीएम ने बताया कि शहर के 46 पैथोलॉजी सेंटरों पर कार्रवाई की जा रही है।

मिली जानकारी के अनुसार, सिविल सर्जन डॉ. श्रीनाथ प्रसाद ने पैथोलॉजी सेंटरों की जांच के लिए जिला स्तरीय कमेटी का गठन किया था। 1 से 7 सितंबर तक जांच की गई थी। जिसमें कई त्रुटि पाई गई थी। निरीक्षण के क्रम में जांच टीम को केंद्र से संबंधित चिकित्सक का पैन व आधार कार्ड, इनकम टैक्स की रिटर्न छाया प्रति, शैक्षणिक योग्यता और चिकित्सा परिषद का निबंधन से संबंधित अभिलेख, मानक पत्र में उल्लेखित उपस्कर व उपकरण उपलब्ध नहीं कराया गया। समीक्षा के क्रम में पाया गया कि मानक स्तर पर पैथोलॉजी सेंटर का संचालन नहीं किया जा रहा है। जिसके आलोक में सिविल सर्जन ने सभी संबंधित जांच घरों को 8 सितंबर से बंद करने का आदेश दिया था। जारी आदेश में कहा गया कि मानक स्तर पर पैथोलॉजी सेंटर नहीं रहने के कारण जनहित व हाईकोर्ट के आदेश अनुपालन के तहत उन सेंटरों को बंद करने को कहा गया था। सीएस ने अपने आदेश में साफ तौर पर कहा है कि निर्देश का अनुपालन नहीं करने पर प्राथमिकी दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

------------------

शहर के कई जांच घरों में हुई छापेमारी

- सदर एसडीएम के नेतृत्व में नगर के कई जांच घरों में छापेमारी की गई। नगर के पुरानी जेल रोड सहित विभिन्न इलाकों में अधिकारियों ने छापेमारी की। इसकी खबर मिलते ही पैथोलॉजी सेंटरों के शटर धड़ाधड़ गिरने लगे। पूरे शहर में हड़कंप मच गया। छापेमारी में एसीएमओ डॉ. मधुसूदन प्रसाद, बीडीओ कुमार शैलेंद्र, सीओ अभय कुमार, डॉ. उमेश चंद्रा सहित कई अधिकारी व कर्मी शामिल थे।

------------------

छापेमारी से मचा हड़कंप

- अधिकारियों की कार्रवाई के बाद पैथोलॉजी सेंटर संचालकों के बीच हड़कंप मच गया। कई संचालक अपने-अपने केंद्रों का शटर धड़ाधड़ गिराकर निकल गए। वहीं कई संचालकों को छापेमारी की भनक लगने से पूर्व अपने-अपने केंद्रों की दुकानों का नाम पेंट से मिटा दिया तो कई लोगों ने बैनर-फ्लैक्स हटा दिया। अधिकारियों ने मौर्या जांच घर, अपोलो जांच घर, सहारा डायग्नोस्टिक, नवादा बायोलॉजी क्लीनिकल लैब, मां आशीर्वाद जांच घर सहित दर्जन भर पैथोलॉजी सेंटरों में जांच की।

------------------

इन जांच घरों को किया गया सील

- छापेमारी के दौरान पुरानी जेल रोड स्थित चार जांच घरों को सील किया गया। सदर एसडीएम ने बताया कि दिल्ली जांच घर, स्टार डायग्नोस्टिक, नवादा बॉयो क्लीनिकल लैब सहित कुल जांच घरों को सील कर दिया गया है।

--------------

कहते हैं अधिकारी

- शहर के 46 पैथोलॉजी सेंटर मानक के अनुसार काम नहीं कर रहे थे। ऐसे सेंटरों के विरुद्ध कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल चार जांच घर को सील कर दिया गया है। हालांकि कई संचालक जांच घर को बंद कर निकल गए थे। जिसके बाद वहां नोटिस साटा गया है। बुधवार को भी ऐसे केंद्रों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

अनु कुमार, सदर एसडीएम, नवादा।

Posted By: Jagran