इस साल अक्षय तृतीया 7 मई को मनाई जाएगी। मान्यता के अनुसार यह तिथि बेहद शुभ मानी जाती है। अक्षय तृतीया का मतलब है कि जिसका कभी नाश ही नहीं होता है।

हिंदू शास्त्र में बैशाख महीने का काफी महत्व है। इस महीने शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया कहा जाता है। अक्षय तृतीया के दिन जप ,तप व दान करने से अक्षय फल प्रदान होता है। जो साधक इस दिन विधि विधान से पूजा करके मां लक्ष्मी को प्रसन्न करते है। उसके घर में देवी लक्ष्मी का वास हमेशा होता है। इस दिन सोने का आभूषण खरीदना शुभ माना जाता है।

-----------------

अक्षय तृतीया पर करें ये काम

-इस दिन सोना खरीदने के अलावा उपवास और दान का भी अपना अलग महत्व माना गया है। इस दिन कोई चीज का अभाव नहीं रहता है। लोग इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करने से सारे पापों से मुक्त हो जाते हैं। और दान से पुण्य मिलता है।

------------------

अक्षय तृतीया पर दुर्लभ योग

-हिंदू पंचांग के मुताबिक इस बार चार बड़े ग्रहों का शुभ संयोग बन रहा है। ऐसा संयोग 2003 में देखने को मिला था। पुन: यह संयोग 16 साल के बाद दोबारा मिला है। इन चार बड़े ग्रहों में सूर्य, चंद्र, राहु, शुक्र उच्च राशि में उपस्थित रहेंगे। सभी ग्रहों की एक साथ उपस्थित बेहद शुभ मानी जाती है।

---------------------

पैकेजिग

पूजा का शुभ मुहूर्त

-सुबह 5 बजकर 40 मिनट से लेकर दोपहर के 12 बजकर 37 मिनट तक

------------------

सोना खरीदने का मुहूर्त

- सुबह 6 बजकर 26 मिनट से लेकर रात 11 बजकर 47 मिनट तक।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran