बिहारशरीफ। जिला में नीरा उत्पादन को व्यवस्थित करने के उद्देश्य से सभी ताड़-खजूर के पेड़ों एवं टैपरों का सर्वे कराया जा रहा है। यह सर्वे कार्य डिजिटल माध्यम से मोबाइल एप के माध्यम से होगा। सर्वे किसान सलाहकार तथा जीविका के एरिया कार्डिनेटर, कम्युनिटी कार्डिनेटर कर रही है। शनिवार को उप-विकास आयुक्त वैभव श्रीवास्तव ने सर्वे कार्य में संलग्न जिला एवं प्रखंड स्तर के पदाधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिग के माध्यम से बैठक की। उन्होंने सभी पदाधिकारियों को निर्धारित समय सीमा के अंतर्गत सर्वे कार्य पूरा करने का निर्देश दिया। सर्वे के क्रम में पेड़ों की संख्या, लोकेशन, पेड़ों के मालिक का नाम तथा टैपरों के नाम आदि से संबंधित सूचना एप के माध्यम से संकलित किया जाएगा। प्रखंड स्तर पर प्रखंड कृषि पदाधिकारी एवं बीपीएम जीविका तथा जिला स्तर पर जिला कृषि पदाधिकारी एवं डीपीएम जीविका इसकी प्रति दिन मानीटरिग सुनिश्चित करेंगे। सभी पदाधिकारियों को एप के माध्यम से सर्वे कार्य को लेकर तकनीकी जानकारी भी दी गई। बैठक में जिला कृषि पदाधिकारी, डीप एम जीविका तथा वीडियो कान्फ्रेंसिग के माध्यम से सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रखंड कृषि पदाधिकारी, बीपीएम जीविका सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

निगम चुनाव में एक बूथ पर होंगे तीन इवीएम मशीन

बिहारशरीफ : नगरनिगम चुनाव की तिथि भले ही तय नहीं की गई है लेकिन निर्वाचन आयोग अपनी तैयारी में जुटा है। इस बार मेयर तथा डिप्टी मेयर का चुनाव सीधे जनता करेगी। ऐसे में मेयर की शक्ति भी अधिक होगी। वहीं चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की खर्च सीमा भी तय होगी। चुनाव में उन्हें कितना पैसा खर्च करना है यह चुनाव आयोग तय करेगा। इसके अलावे हर बूथ पर तीन इवीएम मशीन होंगे। एक वार्ड पार्षद तो दूसरा मेयर तथा तीसरा उपमेयर के नाम का इवीएम होगा। यदि कोरोना संक्रमण दर में गिरावट तथा तमाम चीजें अनुकूल रही तो चुनाव तय समय पर होगा। राज्य निर्वाचन आयोग ने भी नगर पालिका चुनाव की तैयारी शुरू कर दी।

Edited By: Jagran