नालंदा। बिहार एवं झारखंड एनसीसी डायरेक्टरेट के पहल पर 1971 के स्वर्णिम विजय वर्ष एवं आ•ादी का अमृत महोत्सव के पर 'स्वर्णिम विजय सायकलोंथोन विजय चक्र ' नामक साईकल यात्रा का आयोजन किया गया जिसे 22 नवम्बर को पटना से एडीजी बिहार-झारखंड मेजर जर्नल एम इंद्रा बालन ने झंडी दिखा कर शुभारंभ किया। इसका समापन 19 दिसंबर को पटना में होगा। इस यात्रा के दौरान टीम उड़ान पूरे बिहार के दौरे पर निकली है जिसमें इस टीम ने लगभग 1600 किमी की यात्रा तय करने का संकल्प लिया है वो उड़ान टीम 600 कि मी की यात्रा तय कर सोमवार को राजगीर पहुंची, जिसका 38 बिहार बटालियन एनसीसी बिहार शरीफ के बैनर तले अनुमंडल प्रशासन राजगीर ने भव्य स्वागत किया। इस मौके पर नमस्ते सायकलोंथोन नामक कार्यक्रम में राजगीर के अनुमंडल पदाधिकारी अनिता कुमारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रदीप कुमार, राजगीर थाना अध्यक्ष दीपक कुमार, 38 बिहार बटालियन के सरदार पटेल मेमोरियल कालेज के एनसीसी आफिसर लेफ्टिनेंट डा शशिकांत कुमार टोनी, 38 बिहार बटालियन के सूबेदार मेजर बाबूलाल मल्ही, भारत माता की जयकारा एवं छात्र-छात्रा एनसीसी कैडेटों को बुके और प्रतीक चिन्ह देकर भव्य स्वागत किया। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रदीप कुमार ने कहा कि भारत हमेशा से शांति प्रिय देश रहा है। मानवता की रक्षा हेतु हमेशा कृतसंकल्प रहा है। इस यात्रा का उद्देश्य आम जन तक सेना के शौर्य को पहुंचना है। साथ ही 1971 कि लड़ाई के नायकों को सम्मानित करना है। अनुमंडल पदाधिकारी ने कहा कि विश्व को ज्ञान देने वाले धरती, साधु संत ऋषि मुनियों की भूमि दुनिया को शांति और सद्भावना के लिए प्रेरित करने वाली भूमि आपका स्वागत करती है। यह मात्र स्वर्णिम विजय साइक्लोथोन ही नहीं बल्कि राष्ट्रीय एकता और सद्भावना कैंप भी है मैं भी पूर्व में एनसीसी कैडेट रही हूं और यह मेरे लिए काफी गर्व की बात है। थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने सभी कैडेटों को खुद नालंदा राजगीर बार्डर पर से रिसीव कर कार्यक्रम स्थल तक लाए एवं अपनी ओर से सभी कैडेटों को मिठाई खिलाई। उन्होंने लोगों को गर्म पानी के कुंड में स्नान करने एवं राजगीर की वादियों में भ्रमण करने का भी निमंत्रण दिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता एनसीसी ऑफिसर लेफ्टिनेंट डा शशिकांत कुमार टोनी जबकि समापन सूबेदार मेजर बाबूलाल मल्ही ने किया। रात्रि विश्राम के बाद आज अहले सुबह पुलिस एकेडमी के डीआईजी पीके दास, एकेडमी के आरक्षी अधीक्षक अजय कुमार पांडे, आरक्षी अधीक्षक हिमांशु त्रिवेदी, लेफ्टिनेंट डॉ शशिकांत कुमार टोनी, सूबेदार मेजर बाबूलाल मल्ही ने हरी झंडी दिखाकर शेखपुरा के लिए रवाना किया।

Edited By: Jagran