नालंदा, जेएनएन। इस्लामपुर थाना क्षेत्र के सत्यारगंज गांव में दहेज की खातिर ससुराल वालों ने विवाहिता की हत्या कर दी। वारदात को घटना का अंजाम देने के लिए आरोपितों ने शव को फंदे से लटका दिया। ताकि मामला आत्महत्या का लगे। मृतका सत्यारगंज गांव निवासी सौरभ कुमार की पत्नी श्वेता है। थानाध्यक्ष ने बताया कि पति समेत छह लोगों पर दहेज हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

गला दबाकर की हत्या

मृतका के स्वजनों ने ससुराल वालों पर आरोप लगाया है कि 10 लाख रुपये नहीं देने के कारण ससुराल वालों ने पहले विवाहिता की पिटाई की और इसके बाद उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। वारदात के बाद ससुराल के सभी लोग फरार हो गए हैं।

पति दस लाख रुपये की कर रहा था मांग

परिजन ने बताया कि जुलाई 2017 में पटना जिला के तेजप्रताप नगर निवासी दशरथ कुमार की पुत्री कुमारी स्वेता की शादी इस्लामपुर के देवेंद्र नाथ सिंह के पुत्र सौरभ कुमार से हुई थी। शादी के कुछ महीने तक दोनों का संबंध ठीक-ठाक था। इसके बाद ससुराल वालों की तरफ से दहेज की मांग होने लगी। लड़की के पिता सरकारी स्कूल में शिक्षक हैं ये बात कहकर ससुराल वाले 10 लाख रुपये मांगने लगे।

पति मांगने लगा जमीन

इतना ही नहीं पति पटना में एक कट्ठा जमीन की भी मांग करने लगा। जब विवाहिता ने दहेज देने से इन्कार कर दिया तो ससुराल वालों ने मानसिक व शारीरिक प्रताड़ना देनी शुरू कर दी। स्वजनों ने आरोप लगाया कि सोमवार की रात श्वेता का गला दबाकर हत्या कर दी। पड़ोस के रहने वालों से मिली सूचना पर जब मायके वाले ससुराल पहुंचे तो उसका शव पंखें से लटका हुआ मिला।

छह के खिलाफ दर्ज कराई प्राथमिकी

मृतका के शरीर पर चोट के निशान थे। मृतका के स्वजनों का कहना है कि पति व ससुराल वालों ने मिलकर उसकी हत्या गला दबाकर कर दी है। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। इधर, श्वेता की हत्या के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस