पूर्वी चंपारण, जेएनएन। आदापुर थाने में पासपोर्ट का सत्यापन कराने पहुंचे एक संदिग्ध युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार युवक का नाम इम्तियाज आलम है। इसकी सूचना वरीय पुलिस अधिकारी और विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों को दे दी गई है। सूचना पर पहुंची विभिन्न जांच एजेंसियां गिरफ्तार युवक से गहन पूछताछ की। इसके बाद उसे न्यायिक हिरासत में मोतिहारी भेज दिया गया। थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने यह जानकारी दी है।

उन्होंने कहा कि करीब 15 वर्ष पूर्व वह नेपाल के काठमांडू पहुंचा था। जहां गैरेज में मिस्त्री का काम करना शुरू किया। इसी बीच करीब सात वर्ष पूर्व आदापुर थाना क्षेत्र के पकही गांव निवासी स्व. मंजर आलम के पुत्र फिरोज से उसकी मुलाकात हुई। धीरे-धीरे उनके बीच दोस्ती हुई। इसके बाद से उसका पकही गांव आना-जाना शुरू हुआ।

कुछ ही दिनों बाद इस दोस्ती को संबंध का रूप दिया गया। फिरोज ने अपनी बहन की शादी इम्तियाज से कर दी। इस बीच इम्तियाज ने अपने ससुर मंजर आलम को पिता बनाकर आधार कार्ड बनवा लिया। इसके बाद वह विदेश जाने की तैयारी करने लगा। इसके लिए जरूरी पासपोर्ट के लिए पकही यानी अपने ससुराल के पते पर आवेदन किया। जिसके सत्यापन के लिए युवक थाना पहुंचा था।

वहां थानाध्यक्ष ने जब पूछताछ शुरू की तो परत-दर-परत कहानी सामने आने लगी। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। इस संंबंध में थानाध्यक्ष ने बताया कि गिरफ्तार संदिग्ध युवक से सुरक्षा एजेंसियां पूछताछ की हैं। जिसके आधार पर उसका सत्यापन किया जा रहा है। चर्चा है कि गिरफ्तार युवक बांग्लादेशी है। जिसकी जांच सुरक्षा एजेंसियां कर रही हैं। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस