बेतिया, जासं। प्रेम में मंजिल हासिल करने के लिए कई परीक्षाओं से गुजरना पड़ता है। योगापट्टी प्रखंड के चोरही गांव के प्रेमी युगल के साथ भी कुछ ऐसा हुआ। घर से भागकर 10 दिनों तक भटकने के बाद भी जब मंजिल तक नहीं पहुंच सके तो वे विधायक विनय बिहारी के पास पहुंचे। जहां पंचायती के बाद उनकी मौजूदगी में प्रेमी युगल की शादी कराई गयी। दरअसल प्रेमी युगल को जब लगा कि उनके परिवार वाले नहीं मानेंगे तो उन्हाेंने विधायक से मदद मांगी। विधायक ने दोनों के सपने को उड़ान देने के लिए पहल की और मस्जिद में निकाह करा दिया। बताया जाता है कि दरवलिया पंचायत के चोरही निवासी शहाबुन खातून को शिकारपुर थाना के पचमवा गांव निवासी मुस्तफा अंसारी से प्यार हो गया। दोनों ने एक साथ जीने मरने की कसमें खाई। लेकिन, शादी को लेकर परिवार की सहमति नहीं बन पा रही थी। ऐसे में वे क्या करें, समझ नहीं पा रहे थे। जब उन्हें कोई उपाय नहीं दिखा तो आखिरकार दोनों घर से फरार हो गए। 10 दिनों तक इधर-उधर भटकने के बाद लड़की अपने प्रेमी को लेकर गांव में पहुंची। मामले को लेकर दिनभर पंचायती हुई। लड़का पक्ष के लोग तैयार नहीं हुए। विधायक ने लड़का पक्ष को बुलाने की भी पहल की, लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद लड़का पक्ष के लोग नहीं आए।

यह भी पढ़ें : आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा को लेकर बड़ा अपडेट, मुजफ्फरपुर में जश्‍न

आखिरकार लड़का-लड़की की सहमति पर दोनों की शादी करा दी गयी। निकाह के वक्त मस्जिद में विधायक भी मौजूद रहे। विधायक ने कहा कि 10 दिनों तक लड़का लड़की एक साथ रहे हैं। अब इस लड़की की शादी कहीं दूसरी जगह कराने में काफी दिक्कत होगी। कोई लड़का इस लड़की से शादी करने को तैयार भी नहीं होगा।दोनों बालिग हैं और एक साथ रहना चाहते हैं। इसलिए निकाह करा दिया गया। फिलहाल, लड़की के घर पर ही लड़का है। उसका कहना है , उसके परिवार वाले भी धीरे- धीरे मान जाएंगे। 

Edited By: Ajit Kumar