बगहा (पचं), जासं। बीते दिनों वाल्मीकिनगर में संपन्न कैबिनेट की बैठक में बगहा को राजस्व जिले का दर्जा देने की मांग अधूरी रह गई। जिससे आम लोगों में काफी निराशा है। अब, इस मुद्दे को विधानसभा में उठाने की वकालत कांग्रेस नेता और बगहा विधानसभा से महागठबंधन के प्रत्याशी रहे जयेश मंगल सिंह ने उठाया है। श्री स‍िंंह ने रविवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से मुलाकात की और बगहावासियों की मांग से अवगत कराया।

श्री सिंह ने बताया कि भौगोलिक दृष्टिकोण और क्षेत्रफल के आधार पर बगहा राजस्व जिले की हर अहर्ता को पूरा करता है। लेकिन, सरकार की दोहरी नीति के कारण बीते 26 वर्षों से यहां के लोगों को सिर्फ निराशा ही हाथ लगी है। बकौल श्री सिंह नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि बगहा को पुलिस जिले का दर्जा राजद सरकार ने दिया था, अब राजस्व जिले के दर्जा के लिए महागठबंधन विधानसभा में आवाज बुलंद करेगी। उन्होंने कहा कि बगहावासियों की मांग पूरी करने के लिए हम सरकार पर दबाव बनाएंगे। सरकार को इस मांग को मानना ही होगा। उधर, स्थानीय स्तर की अन्य समस्याओं से भी श्री ङ्क्षसह ने नेता प्रतिपक्ष को अवगत कराया। इसके साथ उन्हें बगहा आने के लिए आमंत्रित भी किया।

पूर्व एमएलसी राजेश राम ने जन प्रतिनिधियों से किया संपर्क

पिपरासी। पिपरासी प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में पूर्व एमएलसी राजेश राम ने भ्रमण कर नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों से सोमवार को मुलाकात की। इस क्रम में उन्होंने प्रतिनिधियों से उनके पक्ष में मतदान की अपील की। इस कड़ी में पिपरासी के पूर्व प्रमुख यशवंत नारायण यादव के दरवाजे पर सरपंच दिनेश्वर तिवारी, जिला परिषद सदस्य धनेश्वर यादव ,वार्ड सदस्य रमेश राम आदि से पूर्व एमएलसी ने मुलाकात की। सभी ने सहयोग का आश्वासन पूर्व एमएलसी को दिया। बताते चलें कि इससे पूर्व वे दो बार कांग्रेस से एमएलसी रह चुके हैं। इसके बाद कांग्रेस से त्यागपत्र देकर वे जदयू में शामिल हो गए हैं। ऐसे में यह माना जा रहा है कि जदयू पार्टी से एमएलसी के प्रत्याशी होंगे। वे पूर्व मंत्री पूर्णमासी राम के अनुज हैं।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh