मुजफ्फरपुर : बाया नदी का जलस्तर बढ़ने से परहिया सरैया चौर जलमग्न हो गया। अब तेजी से पानी बढ़ता देख घरों में पानी घुसने की आशका को देख ग्रामीणों ने आक्रोश प्रकट किया है। ग्रामीण योगेंद्र राय उर्फ नेताजी, मुकेश कुमार, वार्ड सदस्य भोला राय, मच्छू राय, सचिंद्र महतो आदि ने बताया कि जल्द सरैया जान्ह को बंद नहीं किया गया तो दो तीन गाव जल्द डूब जाएगा। इससे लोगों की परेशानी बढ़ जाएगी। पुलिया खुला रहने से नदी का पानी गाव में फैल रहा है। इससे लोगों में दहशत व्याप्त हो गया है। लोग सुरक्षित ठिकाने की तलाश में जुट गए हैं। इधर, मुखिया पति अजय कुमार गुप्ता की सूचना पर मौके पर पहुंचे अंचलाधिकारी ने पुलिया से गिर रहे पानी का निरीक्षण किया तथा कार्रवाई का आश्वासन दिया। ग्रामीणों ने कहा कि जल्द पानी का बहाव नहीं रोका गया तो अंचल का घेराव करेंगे।

डीएम से मिले विधायक, सामुदायिक किचेन चालू रखने का आग्रह

बोचहा विधायक मुसाफिर पासवान ने डीएम प्रणव कुमार से मुलाकात कर उन्हें बाढ़ की स्थिति से अवगत कराया। कहा कि अभी बाढ़ के पानी का जलस्तर कम हुआ है, लेकिन बाध के अंदर रह रहे लोगों के घरों से पूरी तरह पानी नहीं निकला है। जिनके घरों से पानी निकल गया है, कीचड़ और बदबू के कारण अभी रहने लायक नहीं है। इसलिए अभी सामुदायिक किचेन को चालू रखा जाए। घरों में खाना बनाने की स्थिति होते ही सामुदायिक किचेन की अनिवार्यता खत्म हो जाएगी। डीएम ने सामुदायिक किचेन को पूर्व की भाति चलाते रखने का आश्वासन दिया।

Edited By: Jagran