समस्तीपुर, जासं। डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. रमेश चन्द्र श्रीवास्तव ने भारत के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू से मुलकात की। कुलपति ने उन्हें औपचारिक रूप से विश्वविद्यालय के द्वितीय दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया। कुलपति डाॅ. श्रीवास्तव के साथ कुलसचिव डाॅ. पीपी श्रीवास्तव और निदेशक शिक्षा डा. एमएन झा सम्मिलित रहे। विदित हो कि विश्वविद्यालय का दूसरा दीक्षांत समारोह परंपरागत रूप से 8 नवंबर को आयोजित किया जाएगा। इसमें भारत के उपराष्ट्रपति मुख्य अतिथि होंगे। उपराष्ट्रपति ने दीक्षांत समारोह में आने की स्वीकृति प्रदान कर दी है। उपराष्ट्रपति के आगमन को लेकर विश्वविद्यालय में जोर शोर से तैयारियां की जा रही हैं। कुलपति कार्यालय को उपराष्ट्रपति कार्यालय से निमंत्रण की स्वीकृति प्राप्त हो गयी थी। इसके बाद कुलपति डा. श्रीवास्तव ने स्वयं उनसे मिलकर औपचारिक रूप से आमंत्रित किया है। इस बार दीक्षांत समारोह का आयोजन मोतिहारी के पिपरा कोठी परिसर में होगा।

पोषण वाटिका अभियान के तहत पौधारोपण का हुआ शुभारंभ

पूसा। कृषि विज्ञान केंद्र बिरौली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 71 वें जन्म दिन पर अंतर्राष्ट्रीय पोषण वाटिका अभियान एवं पौधारोपण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। केंद्र के प्रधान वैज्ञानिक डॉ. आर के तिवारी ने इस अभियान का शुभारंभ किया। इस अभियान पर विस्तारपूर्वक चर्चा की। इस कार्यक्रम में 91 स्कूल एवं महाविद्यालयों की छात्राएं तथा किसानों ने भाग लिया। कार्यक्रम का लाइव टेलिकास्ट किया गया। जिसमें भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. महापात्रा ने पोषक वाटिका के महत्व एवं इस योजना के मुख्य उद्देश्य पर विस्तार पूर्वक चर्चा की। उन्होंने कहा कि घर-घर में पोषण वाटिका लगाना स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक है। वीडियो कांफ्रेंङ्क्षसग के माध्यम से भारत सरकार के कृषि मंत्री ने भी इस योजना के उद्घाटन में अपना संबोधन करते हुए कहा कि पोषक वाटिका में सभी तरह के फल- सब्जी एवं पोषक से संबंधित पौधे लगाए जाएंगे, जो मानव जीवन के लिए काफी उपयुक्त है। इस कार्यक्रम के दौरान छात्र-छात्राओं के बीच सैकड़ों पौधे बांटे गए। मौके पर कृषि विज्ञान केंद्र के सभी वैज्ञानिक एवं कर्मचारी मौजूद थे।