दरभंगा, जासं। ट्रैफिक पुलिस महानिरीक्षक एमआर नायक ने मिथिला क्षेत्र सभागार में बैठक कर यातायात व्यवस्था की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने स्थानीय पुलिस महानिरीक्षक ललन मोहन प्रसाद की मौजूदगी में दरभंगा के प्रभारी एसएसपी अशोक कुमार प्रसाद, मधुबनी एसपी डॉ. सत्य प्रकाश और समस्तीपुर एसपी हृदय कांत, दरभंगा ट्रैफिक डीएसपी बिरजू पासवान से बारी-बारी से यातायात की मौजूदा स्थिति को जाना। इस दौरान सड़क दुर्घटनाएं, उसमें होने वाली मौत, दुर्घटनाओं के कारण, शहर या जिले में चिन्हित ब्लैक स्पाट, ट्रैफिक थाने में बल की स्थिति, उपकरणों का इस्तेमाल आदि पर विस्तार से चर्चा की ट्रैफिक आइजी ने स्पष्ट रूप से कहा कि सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाना विभाग की प्राथमिकता है।

सड़क दुर्घटनाओं के पीछे क्या कारण है और इसे रोकने के लिए क्या उपाय किया जाए यह उन्होंने जाना। पूर्व की घटनाओं की समीक्षा करने को कहा। बार-बार एक ही जगह पर सड़क दुर्घटना होने का मुख्य कारण क्या है यह पता लगाने को कहा। उक्त स्थल को चिन्हित करने को कहा। दुर्घटनाओं में कमी लाने के साथ उन्होंने घायलों को जान बचाने के लिए त्वरित कार्रवाई करने को कहा। मसलन, हाइवे पर पुलिस का गश्त हो, घायलों को त्वरित अस्पताल में भर्ती कराया जाए।

वाहनों की बेलगाम गति पर भी रोक लगाने का निर्देश दिया। इसमें स्पीड गन से मदद लेने को कहा। उन्होंने कहा बेहतर यातायात और दुर्घटनाओं को रोकने के लिए विभाग सभी तरह की उपकरण उपलब्ध करा रही है। जहां जो कमी है उसे जल्द दूर कर दिया जाएगा। ट्रैफिक आइजी नायक ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि बैठक में संबंधित विभाग के अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित कर जाम व हादसों से निपटने का टास्क दिया गया है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh