पश्चिम चंपारण ( नरकटियागंज), जासं। बिहार के नरकटिगंज के एक गांव में युवती को प्यार की ऐसी खौफनाक सजा मिली जिसे जानकर रूह कांप जाएगी। गांव के ही एक युवक से हमेशा बात करती थी। आहिस्ता-आहिस्ता दोनों की नजदीकी एक दिन प्यार में बदल गई। युवती गर्भवती हो गई। स्वजनों को जानकारी होने पर नागवार लगी और उसकी हत्या कर दी।

आनन-फानन में पहुंचे श्मशान

शिकारपुर थाना क्षेत्र के भसुरारी गांव के श्मशान में रविवार की रात जलाया गया शव किसका था और किस परिस्थिति में आधी रात को आनन-फानन में उसे खाक में मिला दिया गया। इस मामले में वरीय पदाधिकारियों के निर्देश पर शिकारपुर और शनिचरी पुलिस ने छापेमारी की। दो लोगों को पकड़ कर थाना लाया गया है और पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। बता दें कि रात में ही ग्रामीणों ने घटना की जानकारी पुलिस महानिदेशक को दी। इसके बाद जिला के अन्य वरीय पुलिस पदाधिकारियों को मैसेज किया। तब चोरी-छिपे शव जलाने के मामले में पुलिस सक्रिय हुई। ग्रामीण शक्ति पासवान ने पुलिस महानिदेशक को इस मामले में एक पत्र भी भेजा है, जिसमें बताया है कि शनिचरी थाना अंतर्गत बहुअरवा गांव की एक 16 वर्षीय लड़की की हत्या कर उसे बोलेरो से शिकारपुर थाना के भसुरारी गांव लाया गया। काफी रात होने पर केरोसिन, टायर, चीनी समेत तेजी से चलने वाली सामग्रियों को लेकर मृत लड़की के स्वजन और रिश्तेदार श्मशान घाट पहुंचे। फिर आनन-फानन में उसे जला दिया गया।

डीजीपी को दी गई जानकारी

इस घटना की सूचना डीजीपी को दी गई। उसके बाद अन्य पुलिस पदाधिकारियों को यह जानकारी लगी। फिर शनिचरी पुलिस शिकारपुर पुलिस के सहयोग से भसुरारी गांव पहुंची और दो लोगों को पकड़ा गया है। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। ग्रामीणों से छानबीन और डीजीपी को भेजे गए पत्र से पता चला है कि लड़की अपने गांव के ही किसी लड़के से प्रेम करती थी। वह तीन चार माह की गर्भवती थी। यह मामला उसके स्वजनों को नागवार लगी और उसकी हत्या कर दी। फिर साक्ष्य छुपाने के लिए शिकारपुर थाना क्षेत्र के भसुरारी श्मशान घाट को चुना। यहां उसके रिश्तेदारों के सहयोग से उसे जला दिया गया।

बहरहाल पुलिस पूरेेे मामले में हकीकत सामने लाने के प्रयास में लगी हुई है। शिकारपुर थानाध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि सूचना मिली थी कि शनिचरी थाना क्षेत्र की किसी महिला को भसुरारी गांव में जलाया जा रहा है। शनिचरी थाना के साथ पुलिस भसुरारी गांव पहुंची। ऐसा कोई साक्ष्य अब तक नहीं मिला है। हालाकि एक व्यक्ति को हिरासत में लेकर पूछताछ किया जा रहा है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh