मुजफ्फरपुर, [मुकेश कुमार 'अमन']। उत्तर बिहार में लड़कियों के प्रीमियर कॉलेज एमडीडीएम में इस बार स्नातकोत्तर (पीजी) कक्षा में लड़कों को भी सीटें अलॉट कर दी गई हैं। नामांकन शुरू है और लड़के महिला कॉलेज का नाम सुनकर ही हैरत में पड़ गए हैं। अर्थशास्त्र विषय की कटऑफ मेरिट में ये गड़बड़ी सामने आई है। जिसमें एक दो नहीं बल्कि पूरे 38 छात्रों को यह कॉलेज मिला है। दूसरे विषयों व कॉलेजों की पड़ताल में संभव है ऐसी और भी गड़बड़ी सामने आए।

  लड़कियों के कॉलेज में लड़कों को सीटें आवंटित होने की बात सुनकर प्राचार्य डॉ. ममता कुमारी खुद भी हैरत में हैं। कहा कि ऐसी गड़बड़ी वाकई चौंकाने वाली है। मगर मेरे हाथ में कुछ भी नहीं है, क्योंकि एडमिशन इस बार विश्वविद्यालय खुद ले रहा है। रही बात छात्रों के नामांकन के लिए कॉलेज आने पर तो उनको समझा-बुझाकर लौटा दिया जाएगा। बहरहाल, इस कॉलेज में एक तो सीटें कम हैं उपर से 83 छात्र-छात्राओं की मेरिट लिस्ट बन गई है। अब इतने स्टूडेंट्स का कॉलेज एडमिशन कैसे ले पाएगा यह दूसरी बड़ी चिंता है।

इन लड़कों के नाम मेरिट लिस्ट में

रविरंजन कुमार, अनुराग कुमार, चंद्रदीप कुमार, राकेश शर्मा, नवल किशोर कुमार, आशीष कुमार पटेल, विकास कुमार राव, अविनाश आदित्या, ओमकार राज दुबे, हीरालाल साह, रविकेश द्विवेदी, राजकुमार यादव, सुनील कुमार, सुनील राम, राजकिशोर साह, रामप्रवेश पटेल, पवन कुमार, अमित कुमार, पवन कुमार यादव, अरविंद कुमार, दीपक कुमार, रोहित कुमार, रूपेश कुमार, सुरेंद्र कुमार, अशोक कुमार राज, रत्नेश्वर चंद्र राम, जितेंद्र कुमार, विकास कुमार, राजेश राम, राहुल कुमार, विकास राम, असलम अली, अनुप रंजन कुमार, प्रद्युम्न कुमार, सिकंदर कुमार, राहुल कुमार, पियूष कुमार, रंजन कुमार उरांव शामिल हैं।

इनके अच्छे माक्र्स, मेरिट लिस्ट से नाम गायब

डॉ. जगन्नाथ मिश्रा कॉलेज से स्नातक करने वाले कन्हाई कुमार ने कहा कि मेरी लिस्ट में मेरा नाम कहीं नहीं है। ऑप्शनल कॉलेज में आरडीएस व आरएन कॉलेज, हाजीपुर व यूनिवर्सिटी का नाम दिया हुआ था। कोमलांगिनी कुमारी ने कहा कि ऑनलाइन अप्लाई की थी। मेरिट लिस्ट में नाम नहीं आया। गणित विषय में एमडीडीएम में 52 फीसद, एलएस कॉलेज में 63 फीसद कटऑफ है। मेरा 63 फीसद रहते हुए लिस्ट से नाम गायब क्यों है?

  साहेबगंज के दीपक कुमार 70.625 फीसद माक्र्स लेकर कॉमर्स में आरडीएस कॉलेज में नामांकन का इंतजार कर रहे हैं। उमाशंकर रजक को आरडीएस कॉलेज में अर्थशास्त्र विषय में नामांकन चाहिए। शुभम कुमार मोटानी आरडीएस कॉलेज में चाहते हैं। जीवछ कॉलेज, मोतीपुर के किसलय कुमार को मनोविज्ञान विषय में पीजी में नामांकन लेना है। ऑनलाइन अप्लाई किया था। मेरिट लिस्ट से नाम गायब।

प्रोवीसी ने कहा-यह सुनकर मैं भी रह गया हतप्रभ

बीआरएबीयू प्रोवीसी डॉ. आरके मंडल ने कहा कि देखिए यह सुनकर तो मैं भी हतप्रभ रह गया। ऐसा होना तो नहीं चाहिए। मगर हुआ भी है तो उनको दूसरे कॉलेज में शिफ्ट कर दिया जाएगा। लड़कियों के कॉलेज में लड़कों का नाम भुलवश चला गया होगा। हो सकता है लड़कों ने ही ऑप्शन में उस कॉलेज का नाम डाल दिया होगा। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस