मुजफ्फरपुर, जेएनएन। मैट्रिक परीक्षा के तीसरे दिन दवा लेने की बात कहकर जिला स्कूल केंद्र से बाहर गई छात्रा वापस नहीं लौटी। केंद्राधीक्षक के आदेश पर छात्रा की कॉपी, प्रश्नपत्र, ओएमआर सीट, एडमिट कार्ड, कलम आदि जब्त किया गया है। केंद्राधीक्षक ने इसकी सूचना जिला शिक्षा पदाधिकारी डॉ. विमल ठाकुर, एसडीओ कुंदन कुमार व छात्रा के पिता को दी। इस पर छात्रा के पिता बोचहां से जिला स्कूल पहुंचे और केंद्राधीक्षक से बात की। उन्होंने पुलिस-प्रशासन पर लापरवाही आरोप लगाया है। परीक्षा अवधि में विद्यालय से बाहर जाकर गायब हो जाने पर कई सवाल उठाए।

उसकी सहपाठी छात्रा ने बताया कि वे लोग बोचहां स्थित अपने गांव से ऑटो रिजर्व कर प्रतिदिन चार-पांच लड़कियों के साथ परीक्षा देने आती थी। अचानक उसने पेट में दर्द होने की बात बताई। उसके बाद उल्टी करने लगी। शौचालय की तरफ चली गई। वहां से गेट पर गई। गार्ड ने रोका तो गेट के बाहर से दवा लेकर वापस आने की बात कहकर निकल गई। उसके बाद लौटकर नहीं आई।

छात्रा के गायब होने का मामला आग की तरह केंद्र सहित जिले में फैल गया। पुलिस-मजिस्ट्रेट ने विद्यालय के चारों तरफ जांच की। वापस आने के लिए माइक से अनाउंस कराया। विद्यालय के पीछे झाडिय़ों में खोजबीन की गई। परीक्षा खत्म होने के बाद भी वह नहीं लौटी। उसकी सहपाठी भी ऑटो में काफी देर तक इंतजार करती रहीं। उसके नहीं आने पर सभी घर चली गईं। केंद्राधीक्षक ने बताया कि छात्रा कुछ लेकर बाहर नहीं गई।

अगर प्रश्नपत्र या कॉपी लेकर जाती तो थाने में एफआइआर करना पड़ता। वह बेंच पर कलम, ओएमआर सीट, एडमिट कार्ड, प्रश्नपत्र सब छोड़कर शौचालय गई थी। उसके सामान को जब्त कर लिया गया है। छात्रा के पिता ने देर शाम तक मिठनपुरा थाने में शिकायत नहीं की थी। थानाध्यक्ष ने किसी छात्रा के गायब होने की सूचना से इन्कार किया है।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस