मुजफ्फरपुर, जासं। हाजीपुर निवासी दैनिक यात्री राज कुमार से सात रुपये की काफी के बदले 15 रुपये लिए गए। मांगने पर पर्ची भी नहीं दी गई। यात्री ने रेल मदद पर रेल मंत्रालय से इसकी शिकायत की। जांच में मामला सही पाए जाने पर प्लेटफार्म संख्या-एक पर स्थित राजस्थान होटल संचालक पर जीएसटी के साथ 5900 रुपये जुर्माना लगाया गया। पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी वीरेंद्र कुमार ने बताया कि विभिन्न स्टेशनों पर गैरमान्यता प्राप्त पैकेज्ड पेयजल की बिक्री करने तथा निर्धारित मूल्य से ज्यादा राशि लेने पर जुर्माना लगाया जा रहा है।

जांच पड़ताल में मिली गड़बड़ी

औचक निरीक्षण के दौरान स्टाल पर एक्सपायर्ड खाद्य सामग्री पाने पर स्टाल संचालक पर 5900 रुपये का दंड लगाया गया। अन्य स्टेशनों पर भी इस तरह के मामले सामने आने पर कार्रवाई की जा रही है। औचक जांच में हाजीपुर, मुजफ्फरपुर, पाटलिपुत्र, दानापुर, बरौनी आदि स्टेशनों पर पेय एवं खाद्य सामग्री पर निर्धारित मूल्य से ज्यादा राशि वसूलने वाले स्टालों के बारे में पता चला है । 14617 बनमनखी-अमृतसर जनसेवा एक्सप्रेस, 12368 आनंद विहार टर्मिनल-भागलपुर विक्रमशिला एक्सप्रेस, 12436 आनंद विहार-जयनगर गरीब रथ एक्सप्रेस, 14650 अमृसर-जयनगर सरयू यमुना एक्सप्रेस , 12365 पटना-रांची जनशताब्दी एक्सप्रेस सहित अन्य ट्रेनों में जांच की गई । जांच के दौरान गैर मान्यता प्राप्त पानी का बोतल बिक्री करने, अवैध वेंडिंग आदि के विरुद्ध कार्रवाई की गई । पूर्व मध्य रेल में यह अभियान आगे भी जारी रहेगा । मालूम हो कि मुजफ्फरपुर जंक्शन पर खान-पान के मामले में अधिक पैसे लेने की शिकायत लगातार रेल मंत्रालय तक जा रही है । फिर भी जंक्शन के मुख्य वाणिज्य प्रबंधक बेखबर हैं। जंक्शन पर कुछ स्टाल संचालकों की मनमानी चल रही है । यात्रियों से चाय-काफी आदि सामान लेने पर दोगुनी राशि की वसूली हो रही है। हालांकि शिकायत के बाद ही कार्रवाई होती है। अन्‍यथा कहीं कोई पूछने वाला नहीं है। 

Edited By: Dharmendra Kumar Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट