सीतामढ़ी, जासं। परसौनी थाना क्षेत्र के भगवानपुर गांव में स्व. महादेव साह के घर डकैतों ने धावा बोला। महादेव साह के परिवार की हैसियत हालांकि डकैती लायक नहीं है बावजूद उनके घर में टाटा सूमो गाड़ी से छह से आठ डकैतों ने धावा बोला। घर का फाटक हथियार से काट डाला और अंदर प्रवेश कर मालकिन मंतोरन देवी को अपने कब्जे में ले लिया। उनको धारदार हथियार दिखा रुपये-पैसे और गहने वगैरह देने के लिए डराया-धमकाया। बारह-पंद्रह हजार रुपये उनसे कैश लूट लिए। संपत्ति के नाम पर कुछ नहीं मिली तो बरामदे में बंधी बकरियाें को उठाकर सूमो गाड़ी पर लाद लिया। जाते-जाते धमकी दे गए कि हो-हल्ला करोगी तो जान से मार देंगे। सूमो गाड़ी रीगा की तरफ गई।

भगवानपुर के निवासी रामबहादुर साह, जयबहादूर साह, पवन साह ने रीगा तक डकैतों का पीछा किया। उन लोगों ने कहा कि रीगा थाना पुलिस पकड़ी गांव में गश्ती पर थी। रीगा थाना पुलिस का डकैतों की सूमो गाड़ी से सामना भी हुआ। शायद पुलिस समझ नहीं पाई कि वो डकैत ही थे। हालांकि, रात में गाड़ी पर सवार आधा दर्जन से अधिक लोगों और बकरियों के होने से पुलिस को संदेह जरूर करना चाहिए था और रोक-टोककर पूछताछ करनी चाहिए थी। मगर ऐसा नहीं होने से हाथ आए डकैत फरार होने में कामयाब रहे। शुक्रवार को परसौनी थाना पुलिस अभी तक इस घटना के बारे में कुछ स्पष्ट नहीं बोल पाई है। उसका कहना है कि छानबीन चल रही है।

चोरौत में शराब की होम डिलीवरी कर रहे थे दो शख्स, पुलिस ने दबोचा

चोरौत। पुलिस ने चोरौत पूर्वी पंचायत के विशनपुर महंत बगीचा से साहरघाट जानेवाली सड़क पर होम डिलेवरी करने के आरोप में दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया। चोरौत थाना पुलिस के साथ मिलकर एलटीएफ ने इन दोनों को गिरफ्तार किया।

आरोपियों की पहचान सुरसंड थाना क्षेत्र के धनाड़ी गांव निवासी बेचन मल्लिक के पुत्र पंकज मल्लिक एवं मधुबनी जिला के मधवापुर निवासी बिल्टू मल्लिक के पुत्र कर्ण मलिक के रूप में गिरफ्तार किया गया। दोनों के पास से छह बोतल नेपाली सौंफी शराब बरामद की गई। थानाध्यक्ष जितेंद्र कुमार ङ्क्षसह ने कहा कि प्राथमिकी दर्ज कर दोनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh