मुजफ्फरपुर, जेएनएन। सदर थाना क्षेत्र के डुमरी स्थित सिंडिकेट बैंक की शाखा में बुधवार को दिनदहाड़े लूट का प्रयास किया गया। लिंक फेल रहने के कारण काउंटर में रुपये नहीं थे। करेंसी चेस्ट की सही चाबी भी लुटेरों को नहीं मिली। इससे रुपये लुटने से बच गए। करेंसी चेस्ट कक्ष में घुसे एक लुटेरे ने अंदर ही एक राउंड फायङ्क्षरग की। बैंक से निकलकर भागने के दौरान भीड़ ने उसे दबोच लिया। अन्य लुटेरे पिस्टल लहराते हुए हवाई फायङ्क्षरग करते हुए सुमेरा की तरफ भाग निकले। पकड़े गए लुटेरे की भीड़ ने पिटाई कर दी।

  सूचना पर सिटी एसपी, नगर डीएसपी और सदर थानाध्यक्ष समेत कई पुलिस पदाधिकारी पहुंचे। गंभीर हालत में पुलिस ने लुटेरे को भीड़ के बचाकर गिरफ्तार किया। प्रारंभिक पूछताछ में उसकी पहचान सुमेरा के आरिफ के रूप में हुई है। पुलिस ने चार बाइक व एक पिस्टल भी जब्त की है। इसमें एक बाइक पकड़े गए लुटेरे की है, जबकि तीन उसकी निशानदेही पर आसपास के क्षेत्रों से बरामद की गई हैं।

यह हुई घटना  

बुधवार की दोपहर करीब तीन बजे छह नकाबपोश लुटेरे हथियार लेकर बैंक पहुंचे। एक लुटेरा बाहर रुक गया और रेकी करने लगा। अन्य पांच ने भीतर घुसते ही पिस्टल निकालकर सभी कर्मियों व अधिकारियों को कब्जे में ले लिया। बैंक में मौजूद दो ग्राहकों को भी बंधक बना लिया। सभी को एक जगह पर बैठा दिया। एक लुटेरा पिस्टल ताने खड़ा रहा, ताकि कोई कुछ कर न सके।

डिप्टी शाखा प्रबंधक से धक्का-मुक्की

लुटेरे कैश समेत सभी काउंटर को खोलकर नकदी खोजी, लेकिन कुछ नहीं मिला। इसी बीच काउंटर पर बैठीं डिप्टी शाखा प्रबंधक सिल्की कुमारी से कैश और चाबी मांगी। इस दौरान उनके साथ हाथापाई भी की। बाल पकड़कर धक्का दिया। उनका कंप्यूटर भी क्षतिग्रस्त कर दिया। इसके बाद शाखा प्रबंधक अर्जुन कुमार को एक लुटेरे ने पिस्टल के बल पर कब्जे में लिया। बाहर काउंटर में रखे चाबियों के गुच्छे को उठाया और उन्हें लेकर भीतर करेंसी चेस्ट कक्ष में गया। लिंक फेल रहने और चाबी सही नहीं मिलने के कारण चेस्ट नहीं खुला।

झल्लाकर दीवार पर की फायरिंग

करेंसी चेस्ट नहीं खुलने पर लुटेरे ने झल्लाकर दीवार पर फायङ्क्षरग कर दी। इसकी आवाज सुनकर आसपास के लोगों को आशंका हुई और बैंक के बाहर स्थानीय लोगों की भीड़ जुटने लगी। यह देख अन्य पांच लुटेरे हथियार लहराते हुए बाइक से भागे। लेकिन, चेस्ट में मौजूद लुटेरे को नहीं पता चला कि उसके साथी भाग चुके हैं। वह जब बाहर निकला तो भीड़ देखकर दंग रह गया। बैंक में अपने साथियों को खोजा। कोई नहींं मिला तो अकेले पिस्टल ताने हुए बाहर निकला।

बालू पर बाइक समेत गिरा आरोपित

 गाली और गोली मारने की धमकी देते हुए वह बाइक पर सवार हुआ। जैसे ही बाइक स्टार्ट कर घुमाने का प्रयास किया। बालू के ढेर पर पहिया पडऩे पर संतुलन बिगड़ा और वह बाइक समेत गिर गया। यह देखते ही भीड़ ने धावा बोल दिया। लात-घूसों से उसकी पिटाई कर दी। भीड़ में शामिल महिलाएं भी लुटेरे को पीटने में पीछे नहीं रहीं।

दे रहा था गाली और गोली मारने की धमकी

 बैंक अधिकारियों ने बताया कि करीब 15 मिनट तक लुटेरों ने बैंक में उत्पात मचाया। लेकिन, कामयाब नहीं हो सके। इस पर झल्लाए लुटेरे कर्मियों व अधिकारियों को गाली दे रहे थे। कैश नहीं मिलने पर गोली मारने की धमकी दे रहे थे। बैंक में मौजूद कर्मियों व अधिकारियों के साथ दुव्र्यवहार करते हुए हाथापाई भी की गई। इस बारे में एसएसपी  जयंतकांत ने कहा कि  गिरोह में शामिल लुटेरे स्थानीय हैं। सभी की पहचान कर ली गई है। उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। चार बाइक व एक पिस्टल बरामद की गई है।

 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस