मुजफ्फरपुर। बेखौफ अपराधियों ने तुर्की ओपी क्षेत्र की चकिया पंचायत के पुपरी गांव में घर में घुसकर संजीत कुमार सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी। अपराधी उनके बेटे को खोजने आए थे। उसके नहीं मिलने पर बदमाशों ने संजीत को गोली मार दी। वे एक प्रिटिग प्रेस में काम करते थे। उनके तीन पुत्र हैं। पिता सीतामढ़ी में अमीन के पद से सेवानिवृत्त हैं। घटना के बाद मृतक के भतीजे व स्थानीय लोगों ने अपराधियों का पीछा किया, लेकिन दोनों भागने में सफल हो गए। हत्या के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए। मौके पर पहुंची तुर्की ओपी पुलिस को उग्र लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा। पुलिस ने किसी तरह समझाकर सभी को शांत किया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

देर शाम संजीत कुमार सिंह ने बड़े भाई रंजीत प्रसाद सिंह ने तुर्की ओपी में आवेदन दिया है। इसमें भाई की आपसी रंजिश में हत्या करने का आरोप लगाते हुए पड़ोसी अभय प्रताप सिंह, अवधेश कुमार सिंह, अनिता देवी, डाली कुमारी, उर्मिला देवी को नामजद अभियुक्त बनाया है। इसमें बताया है कि पूर्व से चली आ रही रंजिश में रविवार सुबह घर पर भतीजा को वे लोग खोजने आए। उसे घर पर नहीं देख उसके पिता को गोली मारकर हत्या कर दी।

बेटे की जगह तुम मरो और चला दी गोली : बताया गया कि पुपरी निवासी संजीत कुमार सिंह (45) रविवार सुबह घर पर थे। इसी दौरान गांव का ही अभय प्रताप स्मैक के नशे में बाइक से अपने साथी के साथ उनके दरवाजे पर पहुंचा। वह हाथ में बंदूक लिए था। संजीत शौचालय से निकलकर जैसे ही बाहर आए आरोपित ने उनके बेटे अनिकेत के बारे में पूछा। उन्होंने उसके घर पर नहीं होने की बात कही। इस पर उसने कहा बेटे की जगह तुम मरो और गोली चला दी। इससे एक गोली उनकी पीठ में व दूसरी सीने में लगी। गोली की आवाज सुनकर भतीजा करण पहुंचा और भाग रहे अपराधियों का पीछा किया, लेकिन दोनों बाइक पर सवार होकर पुपरी मंदिर की ओर भाग निकले। स्वजन उन्हें अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन दरवाजे पर ही मौत हो गई। घटना की सूचना पर पुलिस पहुंची और पड़ताल की।

शीघ्र गिरफ्तारी के आश्वासन पर माने लोग : घटना के बाद ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए आरोपित को शीघ्र गिरफ्तार कर सजा दिलाने की मांग की। पुलिस ने उनको समझाकर शांत कराते हुए जल्द ही आरोपित की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। घटना का कारण स्पष्ट नहीं है। कई तरह की बात सामने आ रही हैं। वैसे पुलिस पुराने विवाद, रंजिश और अन्य बिदुओं पर जांच कर रही है। ओपीध्यक्ष का कहना है कि जांच के साथ आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी की जा रही है। सभी आरोपित घर से फरार है।

एक सीने में तो दूसरी पीठ में लगी गोली : तुर्की ओपीध्यक्ष रविप्रकाश ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने पर दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे। एक गोली सीने में तो दूसरी पीठ में लगी थी। घटनास्थल से दो खोखा बरामद किए गए हैं। पांच लोगों पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई है। आरोपित घर से फरार हैं। सभी की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

शव पहुंचते ही स्वजन में मचा कोहराम : पोस्टमार्टम के बाद घर पर शव पहुंचते ही स्वजन में कोहराम मच गया। आसपास के लोगों की भी भीड़ लग गई। चीत्कार से सभी की आंखें नम हो गईं। लोग कहते रहे कि शायद पुत्र की जगह पिता को ही जिदगी से जाना था। भगवान ने पूर्व में ही मां का साया सिर से उठा लिया था। अब पिता को छीन लिया।

Edited By: Jagran