मुजफ्फरपुर : कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव और उस पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर जिले के विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ शनिवार को जिलाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने समाहरणालय सभागार में बैठक की। इसमें जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी दी गई।

बैठक में डीएम ने विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के सुझावों को भी गंभीरता से लिया। उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में पूरी मानवता पर संकट का बादल मंडरा रहा है। अत: जाति, धर्म, वर्ग से ऊपर उठकर सामूहिक प्रयास के माध्यम से कोरोना को हम पराजित कर सकते है। सभी राजनीतिक दल के प्रतिनिधियों ने एक स्वर में प्रशासन को आश्वस्त किया कि हरसंभव जिला प्रशासन को सहयोग दिया जाएगा।

बैठक में विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने खाद्यान्न वितरण में मिल रही शिकायतों से जिलाधिकारी को अवगत कराया। साथ ही जिलाधिकारी द्वारा राशन केरोसिन-वितरण करने वाले डीलरों पर की जाने वाली कार्रवाई को लेकर भी उनकी प्रशंसा की । प्रतिनिधियों द्वारा की गई शिकायतों को जिलाधिकारी ने गंभीरता पूर्वक सुना और उनके शीघ्र समाधान के लिए जिला आपूíत पदाधिकारी को निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने कहा कि खाद्यान्न वितरण में किसी भी तरह की गड़बड़ी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। बैठक में राष्ट्रीय जनता दल के जिलाध्यक्ष रमेश गुप्ता ने कहा कि जिले में कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन की स्थिति में गरीबों एवं दैनिक मजदूरों की स्थिति बेहद खराब हो गई है। जिले के सभी 384 पंचायतों तथा तीन नगर पंचायतों में राशन कार्ड से वंचित लगभग 75 हजार से अधिक गरीब और मजदूर परिवारो के बच्चे एवं महिलाएं भुखमरी के कगार पर हैं। बैठक में राष्ट्रीय जनता दल, जदयू, कांग्रेस,भाजपा, सीपीआइ, लोजपा तथा अन्य दलों के जिलास्तरीय प्रतिनिधि उपस्थित थे। इनके अलावा उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्ता, जिला आपूíत पदाधिकारी व डीपीआरओ कमल सिंह समेत अन्य उपस्थित थे।

------------------------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस