मधुबनी, जेएनएन। लॉकडाउन के दौरान मकान निर्माण कार्य रोकने गई पुलिस टीम पर हमला कर दिया गया है। लोगों ने की पुलिस कर्मियों व पदाधिकारियों की पिटाई। इस हमले में थानाध्यक्ष समेत कई पुलिस कर्मी घायल। उपद्रवियों ने थानाध्यक्ष का सर्विस रिवॉल्वर भी छीन लिया। मगर, बाद में मुखिया पति व ग्रामीणों के हस्तक्षेप से रिवॉल्वर वापस कर दिया गया।

बताया जाता है कि लौकाहा थाना क्षेत्र की चतुर्भुज पिपराही पंचायत के मटही टोला में कुछ लोग सरकारी जमीन पर घर का निर्माण कर रहे थे। इसकी जानकारी होने पर चौकीदार मो. मुमताज ने लोगों को बुधवार देर शाम निर्माण कार्य रोकने को कहा। बताया गया कि लॉकडाउन में निर्माण कार्य पर भी रोक है।

मगर, लोगों ने नहीं माना। गुरुवार को इसकी जानकारी पर थानाध्यक्ष धनंजय कुमार के नेतृत्व में टीम निर्माण कार्य को रोकने गई। मगर, काम रोकने की जगह लोगों ने लाठी-डंडे से पुलिस टीम पर हमला कर दिया। इसमें थानाध्यक्ष भी जख्मी हो गए। बताया जाता है कि उनका सर्विस रिवॉल्वर भी छीन लिया गया। मगर, बाद में मुखिया पति व ग्रामीणों ने बीच-बचाव कर रिवॉल्वार वापस करा दिया। साथ ही थानाध्यक्ष व अन्य पुलिसकर्मियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की सूचना पर फुलपरास एसडीपीओ सुनीता कुमार घटनास्थल की ओर रवाना हो गई हैं। वहीं उन्होंने पुलिस टीम पर हमले की पुष्टि की है।

यह भी बताया जा रहा कि जिस जगह पर निर्माण कार्य हो रहा था वह जमीन सरकारी है। लॉकडाउन में किसी का ध्यान नहीं जाए इसलिए जल्दबाजी में निर्माण कार्य कराया जा रहा था। फिलहाल इस मामले में जगदेव राम व चंद्रदेव राम को आरोपित किया गया है। चंद्रदेव राम वन विभाग का कर्मी बताया जा रहा है। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस