उजियारपुर (समस्‍त‍ीपुर), जासं। अंगारघाट थाना क्षेत्र के डढिय़ा राजेश्वर चौक के पास शुक्रवार की सुबह अंधाधुंध फायरिंग कर एक मजदूर रामभरोसी पासवान की हत्या अपराधियों ने कर दी थी। हत्या के दूसरे दिन भी पुलिस इस मामले में अब तक अपराधियों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इस मामले में प्राथमिकी भी दर्ज नहीं हुई है। बता दें कि गांव के ही खेतिहर मजदूर रामभरोसी पासवान की हत्या अपराधियों ने सुबह में कर दी थी। इस मामले में स्वजनों की ओर से थाना में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए शनिवार को आवेदन दिया गया। लेकिन प्राथमिकी दर्ज नहीं हुई है। पुलिस का कहना है कि स्वजन आवेदन में सुधार करना चाहते हैं। जिसके कारण अब तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है। डढिय़ा में दिनदहाड़े हत्या के बाद गांव में दहशत की स्थिति बनी हुई है। घटना के बाद पुलिस की सक्रियता गांव में बढ़ी हुई है।

स्वजनों के कारण प्राथमिकी दर्ज नहीं

थानाध्यक्ष प्रेमप्रकाश आर्य ने बताया कि मृतक के स्वजन प्राथमिकी के लिए आवेदन तो दिया है लेकिन पूर्ण संतुष्ट होने के लिए थोड़ा समय मांगा है। इसलिए अब तक प्राथमिकी दर्ज नहीं हो पाई है। दलसिंहसराय एसडीपीओ दिनेश कुमार पांडेय ने बताया कि स्वजनों से पूछताछ तथा मामले की छानबीन के क्रम में कुछ संदिग्धों की पहचान की गई है। उन संदिग्धों के मोबाइल नंबर के आधार पर उसके मोबाइल का टावर लोकेशन खंगाला जा रहा है। वहीं मोबाइल की सीडीआर जांच भी की जा रही है।

विवादित जमीन के पास किया दाह संस्कार

एसडीपीओ ने बताया कि वैज्ञानिक अनुसंधान के लिए घटनास्थल के आसपास वाले मोबाइल टावर डंप किया जा रहा है। इधर, मृतक के घर और मुहल्ले में माहौल पूरी तरह गमगीन बना हुआ है। पोस्टमार्टम के बाद शुक्रवार की देर शाम शव का दाहसंस्कार कर दिया गया। बताया जाता है कि जहां दाह संस्कार किया गया, वह मृतक के विवादित जमीन के पास है। वैसे पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी शुरू कर दी है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh