समस्तीपुर, जेएनएन। वर्तमान बिहार और केंद्र सरकार की सभी योजनाएं हवा-हवाई है। चाहे वह सात निश्चय योजना हो, बिहार को विशेष पैकेज देने की बात हो या नमामि गंगे का कार्यक्रम हो। सभी योजनाओं में बिहार और केंद्र सरकार पूरी तरह विफल रही है। उक्त बातें राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने पटोरी के धमौन उच्च विद्यालय तथा गुलाब बूबना इंटर स्कूल के प्रांगण में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि बाढ़ या कोविड-19 जैसी महामारी में सरकार चुपचाप बैठी रही जबकि उन्होंने 16 करोड़ की राहत राशि और सामग्री का वितरण किया। उन्होंने कहा कि बिहार की सीमा पर नीतीश कुमार आ रहे प्रवासियों को रोक रहे थे जबकि 35 लाख 83 हजार प्रवासियों को उन्होंने घर तक सकुशल पहुंचाने का काम किया।

 उन्होंने रेल के निजीकरण का कड़ा विरोध किया तथा आरक्षण समाप्ति की साजिश का आरोप लगाया। उन्होंने बिहार सरकार पर आरोप लगाया कि केंद्र और बिहार की सरकार संयुक्त रूप से बिहार को विकास के मामले में 26 वें स्थान पर धकेल दिया है। उन्होंने स्पष्ट कहा कि यदि जाप की सरकार बनी तो वे देश ही नहीं बल्कि बिहार को एशिया का सबसे विकसित राज्य बनाएंगे। कहा - हमारी सरकार बनी तो प्रत्येक युवा को रोजगार और भूमिहीनों को 1 BHK का मकान देंगे। वे मोरबा के प्रत्याशी सूर्य नारायण सहनी तथा मोहिउद्दीन नगर विधानसभा के प्रत्याशी अजय कुमार बुलगानीन के पक्ष में चुनाव प्रचार करने आए थे। उनके साथ आए भीमआर्मी के राष्ट्रीय सचिव चंद्रशेखर रावण ने भी सभा को संबोधित किया तथा बिहार सरकार के साथ-साथ केंद्र की सरकार पर भी कुठाराघात किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता रामप्रसाद मेहतर ने की।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस