पूर्वी चंपारण, जेएनएन। डिजिटल इंडिया के क्षेत्र में भारत सरकार के पोस्ट एंड टेलीग्राफ विभाग ने एक बड़ा कदम उठाया है। विभाग ने गूगल आधारित 'नान्यथा सॉफ्टवेयर' लांच किया है। इसके माध्यम से डाक विभाग ने शहर में लगे लेटर बॉक्स की निगरानी करेगा। यह व्यवस्था लागू होने के बाद आप घर बैठे मोबाइल के जरिए पत्र संबंधी जानकारी पलभर में मिल जाएगी। डाकिया आपके पत्रों को देने में तनिक भी बिलंब नहीं कर पाएंगे। क्योंकि इसकी निगरानी अब गूगल करेगा।

 जिले के सभी लेटर बाक्स गूगल की निगरानी की जद में होगा। इस योजना के लागू हो जाने के बाद लेटर बाक्स में रखे पत्रों की स्थिति पारदर्शी हो जाएगी। बताया गया है कि डाक विभाग द्वारा जिले के प्रत्येक डाकघर, उपडाकघरों एवं सार्वजनिक जगहों पर लगे लेटर बाक्स को गूगल आधारित 'नान्यथा सॉफ्टवेयर' से जोड़ दिया जाएगा। इसके माध्यम से आप नजदीकी लेटर बाक्स के खुलने की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

 जानकारी के मुताबिक डाक विभाग द्वारा प्रत्येक लेटर बाक्स का यूनिक वर्गीकरण किया जा रहा है। साथ ही लेटर बाक्स में स्थित बार कोड के माध्यम से इसकी निगरानी विभाग द्वारा नियमित की जाएगी। वहीं पत्र संबंधी साधारण डाक का व्योरा दैनिक रुप से विभागीय बेवसाइट पर दर्ज किया जाएगा। इससे पत्रों के समयबद्ध वितरण एवं प्रेषण में बेहतर सुधार होगा। 

 इस बारे में चंपारण प्रमंडल डाक अधीक्षक राजकुमार दुबे ने कहा‍ कि विभागीय स्वीकृति मिल चुकी है। जल्द ही इस योजना को चंपारण प्रमंडल के सभी डाकघरों में लागू कर दिया जाएगा।

 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस