मुजफ्फरपुर, जासं। प्रारंभिक शिक्षक नियोजन में शुक्रवार को तीसरे चरण की प्रक्रिया पूरी हो गई। आखिरी दिन नौ प्रखंडों में पंचायत नियोजन इकाई की ओर से काउंसलिंग की प्रक्रिया की गई। इसके लिए निर्धारित सामान्य विषयों के लिए 156 और उर्दू के लिए 16 सीटों में से कुल 60 सीटों के लिए ही अभ्यर्थियों का चयन हो सका। सरैया और बोचहां प्रखंड में एक भी अभ्यर्थी चयनित नहीं हो सके। बताया गया कि संबंधित कोटि में सीट नहीं होने के कारण सीट रिक्त रह गए। गायघाट में छह, मोतीपुर में 22, पारू में 20, मुशहरी में एक, साहेबगंज में दो, मुरौल में पांच और कटरा में कुल चार अभ्यर्थियों को चयनित किया गया। डीईओ ने बताया कि इसके साथ ही तीसरे चरण की नियोजन प्रक्रिया पूरी हो गई। इसके बाद जो सीटें रह गई हैं उन्हें अगले चरण में जोड़कर उसके विरुद्ध शिक्षकों की नियुक्ति होगी। 

अभ्यर्थियों ने लगाया गड़बड़ी का आरोप 

प्रारंभिक शिक्षक नियोजन में शिक्षक अभ्यर्थियोंं ने गड़बड़ी करने का आरोप लगाया। विभिन्न नियोजन इकाई के खिलाफ डीईओ को ज्ञापन सौंपा गया। अभ्यर्थियों का आरोप था कि अधिक अंक होने के बाद भी उन्हें मौका नहीं मिला, जबकि उससे कम अंक वाले का चयन कर लिया गया। डीईओ ने कहा कि पूरी प्रक्रिया कैमरे के सामने कराई गई है। इसमें किसी प्रकार की गड़बड़ी नहीं हुई है। आखिरी दिन जिन अभ्यर्थियों का चयन नियोजन इकाई की ओर से किया गया है उन्हें 24 घंटे के भीतर प्रमाणपत्र कोषांग को सौंपना है।

सरैया में काउंसलिंग की रिकार्डिंग कर रहे कैमरे को छीना, प्राथमिकी

सरैया (मुजफ्फरपुर), संस: जगत सिंह उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मनिकपुर में शिक्षक नियोजन हेतु काउंसलिंग में 10 सीटों में मात्र 5 पर चयन किया गया। बसंतपुर उत्तरी पंचायत की तीन सीटों पर कोई नहीं आया। नरगी जीवनाथ की सात सीटों में मात्र 5 पर ही नियोजन किया गया। काउंसलिंग प्रक्रिया समाप्त होने के तीन बजे कुछ युवक गड़बड़ी का आरोप लगाकर हंगामा करने लगे। इन युवकों ने काउंसलिंग की रिकार्डिंग कर रहे कैमरा मैन का कैमरा छीन लिया। हंगामा देख बीडीओ शत्रुंजय कुमार सिंह वहां पहुंचे तथा हंगामा कर रहे युवकों को स्कूल कैंपस से बाहर किया। पुलिस को सूचना देकर बुलवाया। काफी मशक्कत के बाद कैमरा वापस किया गया। कैमरा वापस करने के पूर्व रिकार्डिंग की कापी कर ली गई थी। इस संबंध में शिविर के लिए प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी पीओ मनरेगा रघुनाथ कुमार ने अज्ञात लोगों पर हंगामा करने व सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने की प्राथमिकी थाने में दर्ज कराई है। बीडीओ ने बताया कि नियोजन प्रक्रिया शांतिपूर्वक संपन्न होने पर कुछ लोगों द्वारा सुनियोजित तरीके से हंगामा कराया गया।

 

Edited By: Ajit Kumar