मुजफ्फरपुर, जासं। एंटीजन किट कालाबाजारी का नामजद आरोपित सदर अस्पताल प्रबंधक प्रवीण कुमार की तलाश में पुलिस ने सदर अस्पताल में छानबीन की, लेकिन वह मौका देखकर वहां से फरार हो गया। जानकारी के मुताबिक वह नामजद आरोपित होने के बाद भी अभी सदर अस्पताल में काम कर रहा है। कंट्रोल रूम के साथ पूरे परिसर में वह घूमता रहता है। पुलिस ने अस्पताल कर्मियों से पूछताछ की, लेकिन किसी ने उसके बारे में कोई ठोस जानकारी नहीं दी। इसके बाद टीम वहां से लौट गई। देर रात उसके सभी संभावित ठिकानों पर छापेमारी की गई। उसका कोई सुराग नहीं लगा। उसके दोनों मोबाइल नंबर भी स्विच आफ मिले। रात को उसकी गिरफ्तारी की अफवाह भी फैली। डीएसपी पूर्वी मनोज पांडेय ने गिरफ्तारी से इन्कार किया है। कहा कि छापेमारी हुई है, लेकिन पकड़ा नहीं गया है। एसएसपी जयंतकांत ने गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की है। कहा कि डीएसपी पूर्वी को विशेष टीम बनाकर एंटीजन किट मामले के फरार दो आरोपितों की गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है। मालूम हो कि सकरा पुलिस ने 4000 एंटीजन किट समेत कई सरकारी सामान को बरामद किया। इसमें पांच लोग जेल भेजे गए हैअभी दो फरार हैैं। 

110 केंद्रों पर 15804 का लगी कोरोना वैक्सीन

जासं, मुजफ्फरपुर : जिले में शुक्रवार को 110 केंद्रों पर 15804 लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया। इसमें 18-44 वर्ष वालों ने 9290 ने पहली व 661 ने दूसरी, 45-59 वर्ष वालों में 2616 ने पहली व 1257 ने दूसरी और 60 साल से ऊपर वालों ने 1287 ने पहली व 692 ने दूसरी डोज ली। स्टोर इंचार्ज शत्रुघन चौधरी ने बताया कि शुक्रवार को 20 हजार डोज मुख्यालय से भेजी गई है।  

Edited By: Ajit Kumar