मुजफ्फरपुर। मनरेगा अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 के श्रम बजट एवं वार्षिक कार्य योजना को लेकर विभाग की तरफ से दिशा निर्देश जारी किया गया है। जिसमें बताया गया कि ग्राम पंचायत विकास योजना (जीपीडीपी) सबकी योजना सबका विकास के तहत साथ-साथ इस योजना को किया जाएगा। इसके तहत सेल्फ ऑफ प्रोजेक्ट को ग्राम पंचायत विकास योजना के साथ करने की कार्रवाई की जाएगी, ताकि मनरेगा के सभी कार्य अनिवार्य रूप से जीपीडीपी में शामिल हो सके। बताया गया कि ग्राम पंचायत द्वारा अनुमोदित मनरेगा के वार्षिक कार्य योजना 2021-22 से संबंधित डाटा की प्रविष्टि पंचायत राज विभाग के ई-ग्राम स्वराज पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। इसके तहत एक दिसंबर से 25 दिसंबर तक वार्ड सभा का आयोजन किया जाएगा। बताया गया है कि पांच जनवरी तक ग्राम सभा, 15 जनवरी तक पंचायत समिति की बैठक से अनुमोदन, 20 जनवरी तक जिला परिषद की बैठक से अनुमोदन व 25 जनवरी तक अनुमोदित कार्य योजना को पंचायती राज विभाग के ई-ग्राम स्वरोज वेब पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। श्रम बजट का विवरण नरेगा सॉफ्ट पर अपलोड किया जाएगा। इसको लेकर जिला स्तर पर अनुश्रवण कोषांग का गठन किया गया है। जिसका दायित्व होगा कि समय पर पंचायत स्तर पर कार्य को संपन्न कराए। ग्राम पंचायत विकास योजना सबकी योजना सबका विकास के तहत श्रम बजट एवं वार्षिक कार्य योजना के निर्माण के लिए वार्ड स्तरीय प्लान प्रारंभ किए जाने के पूर्व सभी तैयारी सुनिश्चत की जाएगी। इन सभी बिंदुओं को लेकर डीडीसी सुनील कुमार झा ने सभी बीडीओ को निर्देश दिया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021