पूर्वी चंपारण, जेएनएन। सीमा पार से अवैध तरीके से नेपाली शराब लाकर भारत में बेचनेवाले संगठित तस्करों ने सोमवार की रात छापेमारी करने में लगी पूर्वी चंपारण के झरोखर थाना की पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। हमले में यहां के थानाध्यक्ष लालबाबू यादव समेत कई पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। हालांकि पुलिस ने हमले के बावजूद चार कारोबारी और शराब को जब्त करने में कामयाबी पा ली। 

  बताया गया है कि पुलिस को सूचना मिली थी कि अवैध शराब कारोबारियों का एक रैकेट शराब की बड़ी खेप लेकर भारतीय सीमा में प्रवेश करनेवाला है। त्वरित कार्रवाई के तहत पुलिस की टीम ने गिरफ्तारी को लेकर एंबुश लगाया। इस दौरान सीमा पार नेपाल से आ रहे एक कारोबारी को एक बोरा शराब की बोतलों के साथ दबोचा गया।

  पुलिस शराब की बोतलों के मिलान मे लगी थी कि अचानक अन्य कई तस्करों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। हमले में थानाध्यक्ष और पुलिस टीम के कई सदस्य जख्मी हो गए। इस बीच पुलिस ने तमाम विरोध के बीच कुल चार लोगों को धर दबोचा। गिरफ्तार किए जानेवालों में लैन बसवरिया निवीसी मुकेश शर्मा, विवेक आनंद शर्मा, अनिल कुमार एवं मिथिलेश शर्मा शामिल हैं। पुलिस ने सभी को आवश्यक कानूनी प्रक्रिया के बाद जेल भेज दिया है।

  पूर्वी चंपारण झरोखर थानाध्यक्ष लालबाबू यादव ने बताया कि गिरफ्तार तस्करों को जेल भेजा गया है। कई अन्य की पहचान की गई है। पुलिस समय से रहते अवैध तस्करों के इस रैकेट के सभी सदस्यों को गिरफ्तार कर लेगी। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस