मुजफ्फरपुर, जासं। अहियापुर थाना क्षेत्र के एसकेएमसीएच इलाके की जूनियर महिला डॉक्टर ने पति व ससुरालियों पर दहेज के लिए प्रताडि़त करने का आरोप लगाया है। मामले में उन्होंने अहियापुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमें पति, सास-ससुर समेत अन्य को आरोपित किया है। पुलिस का कहना है कि कांड दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

बताया गया कि पटना फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र की मूल निवासी पीडि़ता की 18 जून 2017 को पटना में शादी हुई थी। वर्तमान में पीडि़ता अपने पिता के साथ एसकेएमसीएच इलाके में रह रही है। उसके पिता भी डॉक्टर हैं। प्राथमिकी में कहा कि शादी के कुछ महीने बाद से ही दहेज के लिए प्रताडि़त किया जाने लगा। पीडि़ता का कहना है कि उसके ससुर न्यायिक पदाधिकारी हैं, जो दरभंगा में तैनात हैं। उनके द्वारा अश्लील हरकत भी की गई। वहीं, डॉक्टर पति यूपी के लखनऊ में तैनात हैं। आवेदन में पीडि़ता ने इन सभी पर आरोप लगाते हुए कहा कि दहेज में दूसरी कार, फ्लैट के आंतरिक सजावट के लिए रुपये आदि की लगातार मांग की जा रही है। नहीं देने पर मारपीट कर प्रताडि़त किया जाता है।

ससुर पर मायके वालों को बर्बाद कर देने की धमकी देने का भी आरोप लगाया है। अहियापुर थानाध्यक्ष सुनील कुमार रजक ने बताया कि जूनियर महिला डॉक्टर द्वारा दहेज प्रताडऩा की प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जिसमें पति , ससुर , सास को आरोपित किया गया है। इन सभी पर मारपीट कर जान से मार देने की धमकी और पीडि़ता के परिवार को मुकदमे में फंसा कर बर्बाद कर देने का भी आरोप लगाया है। पुलिस का कहना है कि जांच कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। इधर, आरोपितों से भी उनका पक्ष जानने की कोशिश की गई, मगर संपर्क नहीं हो सका। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप