बगहा (पचं), जासं। एमएलसी चुनाव को लेकर बुधवार को बगहा दो स्थित एक होटल में जिला जदयू कार्यकारिणी और प्रखंड अध्यक्षों की संयुक्त बैठक हुई। अध्यक्षता जिलाध्यक्ष सह विधान पार्षद भीष्म सहनी व संचालन जिला मुख्य प्रवक्ता राकेश ङ्क्षसह ने किया। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भीष्म सहनी ने एमएलसी चुनाव में दल के नेता के उम्मीदवार को अधिक से अधिक मतों से विजय बनाने पर बल दिया। इसके लिए जदयू समर्थित एनडीए का संभावित उम्मीदवार व निवर्तमान विधान पार्षद राजेश राम को जदयू संगठन पार्टी की ओर से जीत दिलाने की बात कही। साथ ही पार्टी कोष के लिए धन संग्रह करने व आगामी 24 जनवरी को प्रखंड स्तर पर कर्पूरी जयंती मनाने व अति पिछड़े समाज के जनप्रतिनिधियों को सम्मानित करने का भी रूप रेखा तैयार की गई।

निवर्तमान एमएलसी राजेश राम ने सभी पदाधिकारियों का स्वागत करते हुए उनसे समर्थन की अपील की। श्री राम ने कहा कि नीतीश कुमार की ही देन है कि बिहार के गरीब, शोषित, दलित, महादलित, महिलाएं और अति पिछड़े समाज के लोग आज स्थानीय निकायों के जनप्रतिनिधि बने हैं। यदि नीतीश सरकार ने पंचायत और नगर निकाय चुनाव में आरक्षण लागू नहीं किया होता तो यह सम्भव नहीं होता। उन्होंने सभी लोगों को विश्वास दिलाया कि उनके मान सम्मान में कभी कमी नहीं होगी।

वाल्मीकिनगर विधायक धीरेंद्र प्रताप स‍िंंह उर्फ र‍िंंकू स‍िंंह  ने कहा कि बिहार के मुखिया नीतीश कुमार ने राज्य में विकास के जो आयाम गढ़े हैं । उसी को लेकर सभी साथी चुनाव मैदान में जाएंगे। पार्टी प्रत्याशी राजेश राम की जीत सुनिश्चित है। बस हमलोगों को मजबूती से काम करने की जरूरत है।

बैठक में जदयू नेता नन्दकिशोर राम, रामबाबू प्रसाद दयाशंकर ङ्क्षसह, शेख इस्लाम उर्फ गुड्डू , सुरेंद्र बैठा, उमाशंकर पटेल, इम्तेया•ा अहमद, जयेंद्र ङ्क्षसह, पशुपतिनाथ गुप्ता, सूरज सहनी, महेश्वर काजी, सुरेंद्र उरांव, जितेंद कुशवाहा, निवेदिता मिश्रा, लक्ष्मी खत्री, आरती देवी, हेवन्ती देवी, बिक्रमा चौधरी, संजय मिश्रा, जितेंद्र जायसवाल, मुरारी चौधरी, मो0 गयासुद्दीन, रविन्द्र पटेल, दूधनाथ कुशवाहा, विभव कुमार राय,ङ्क्षसघलदीप गद्दी, पूर्व प्रमुख इंद्रजीत राम, चन्द्रशेखर बिन, राजेश्वर ङ्क्षसह, जिला पार्षद जितेंद्र गुप्ता, रंजीत राज, चंदन ङ्क्षसह, मो0 राशिद, हीरालाल ठाकुर, इजहार सिद्दीकी, ओमप्रकाश शाही, राजेश्वर राव, शांति देवी, सत्येंद्र रौनियार आदि शामिल हुए।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh