दरभंगा, जासं।  बिहार की जनता ने जबसे काम करने का मौका दिया है, तबसे लगातार विभिन्न क्षेत्रों के लिए काम करते आ रहे हैं। बिहार में पति-पत्नी की भी सरकार थी। उनसे पूछिए जब हमने काम करने का मौका दिया तो क्या किया। केवल अपना काम किया। परिवार के लिए काम किया। जनता को सुध तक लेना जरुरी नहीं समझा। 15 साल जनता को उनसे हाल पर छोड़ दिया। हर प्रकार से कोशिश हैं कि यहां के लोगों को बाढ़ से मुक्ति मिले। उपरोक्त बातें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कही।

वे सोमवार को कुशेश्वरस्थान के धबौलिया में एनडीए से जदयू प्रत्याशी अमन भूषण हजारी के पक्ष में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। कहा- आजकल कुछ लोग पेपर में स्टेटमेंट दे रहे है। अरे भाई, आपके परिवार की जब सरकार थी तो आपने परिवार ने इस इलाके को क्या दिया। यह भी जनता को चुनाव के वक्त आने वाले विपक्षियों से पूछना चाहिए। वर्ष 2005 से जब से प्रदेश में एनडीए के नेतृत्व में सरकार बनी, उसी वक्त से एक-एक चीज पर कार्य करना शुरू किया। सीएम ने कहा कि हमलोगों के ऊपर बहुत लोग आरोप लगाते रहते है, लेकिन हम अपने काम पर ध्यान देते है। इस इलाके की बहुत सारी समास्याएं है। सबके निराकरण की दिशा में काम किया जा रहा है। काम को पूरा होने में वक्त लगता है। आरजेडी पर कटाक्ष करते कहा कि उनसे पूछिए कि क्या 15 साल पूर्व इस इलाके में बाढ़ नहीं आता था। कहां थे। क्या काम किया।

अभी बाढ़ और सड़कों को लेकर बयान दे रहे है। सरकार की नजर एक-एक विकास कार्यों में है। एक भी काम को नहीं छोड़ा जाएगा। हम वादा करते हैं चुनाव के बाद फिर से इस इलाके का दौरा करेंगे। छूटे हुए काम को पूरा करेंगे। हमको याद हैं, इसी दरभंगा में बाढ़ के दौरान जब हमने एक-एक क्विंटल अनाज दिया था तो लोग हमें क्विंटलिया बाबा बुलाने लगे। इसको हम आजीवन नहीं भूल सकते। कहा कि कुशेश्वरस्थान को बाढ़ से मुक्त करने की दिशा में जल संसाधन विभाग कार्य योजना पर काम कर रहा है। कहा कि सुदूर क्षेत्र के लोगों को हर प्रकार की सुविधा मिले, उस दिशा में भी काम किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा कि यह हमारी इच्छा थी कि दरभंगा में एम्स बने। हम कितना पीछे पड़े रहे। तब निर्णय हुआ। सीएम ने कहा कि कुछ लोगों को काम में नहीं, कमाई में दिलचस्पी है। कहा कि जो काम कर रहे है, उसका लाभ लोगों को जरूर मिलेगा। सभा को केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस, राज्यसभा सदस्य रामनाथ ठाकुर, समस्तीपुर के सांसद प्रिंस राज, वैशाली की सांसद वीणा देवी, शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा, समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री जीवेश कुमार, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद संजय जायसवाल, जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा, नगर विधायक संजय सरावगी, एलएलसी अर्जुन सहनी आदि ने संबोधित किया।