मुजफ्फरपुर : शारदीय नवरात्र के दूसरे दिन रविवार को देवी मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। सभी ने मां दुर्गा की पूजा-अर्चना की। इस दौरान मां दुर्गा के जयकारे से पूरा माहौल भक्तिमय हो गया। मंदिरों में सुबह से ही भक्तों का आगमन शुरू हो गया। घरों में भी लोगों ने पूजा-अर्चना की। इस बार कोरोना संक्रमण के कारण पंडाल नहीं सजने से अन्य वर्षो की अपेक्षा शारदीय नवरात्र की बाजार में रौनक कम दिखाई दे रही है।

क्लब रोड स्थित देवी मंदिर, गोला रोड स्थित दुर्गा मंदिर, पक्की सराय स्थित बगलामुखी मंदिर, सिकंदरपुर स्थित दुर्गा काली मंदिर, धर्मशाला चौक स्थित संतोषी माता मंदिर, कालीबाड़ी स्थित मां वैष्णो देवी मंदिर, बीएमपी 06 स्थित दुर्गा मंदिर, ब्रह्मपुरा स्थित दुर्गा स्थान, बैरिया स्थित दुर्गा मंदिर, भगवानपुर चौक स्थित मां वैष्णो माता समेत अन्य मंदिरों में भक्तों की भीड़ लगी रही। बीएमपी-06 स्थित दुर्गा मंदिर परिसर में माता के दर्शन के लिए बनी बैरिकेडिग के रास्ते से भक्तों को कतार में कर माता का दर्शन कराया गया। पूजा समिति के अध्यक्ष नगीना प्रसाद व शैलेश यादव ने कहा कि सरकार की गाइडलाइन का पूरी तरह पालन किया जा रहा है। मास्क लगाने वाले भक्तों को ही मंदिर में प्रवेश मिल रहा है।

माता दुर्गा के दूसरे स्वरूप ब्रह्मचारिणी की पूजा-अर्चना पुरोहितों व आचार्यों द्वारा की गई। बगलामुखी मंदिर के आचार्य वशिष्ठ तिवारी व पंडित हरिशंकर पाठक ने बताया कि कोरोना काल को देखते हुए भक्तों को मास्क एवं सैनिटाइजर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन कराया जा रहा है। किसी भी भक्त को मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। प्रसाद की व्यवस्था भी भक्तों के लिए नहीं है। श्रद्धालु केवल केवल मां के दर्शन ही कर सकते हैं। इधर, देवी मंदिर के प्रधान पुजारी आचार्य अमित तिवारी ने बताया कि श्रद्धालुओं को सिर्फ दर्शन की ही अनुमति है। यहां भी सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है। सरकार के दिशा निर्देशों का पालन कराया जा रहा है। बैरिया गोलंबर स्थित दुर्गामाता मंदिर के प्रधान पुजारी आचार्य अरुण पांडेय ने बताया कि भक्तों के लिए माता के सिर्फ दर्शन की अनुमति है। सभी भक्तों को सैनिटाइजर उपलब्ध कराया जा रहा है

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस