मुजफ्फरपुर। छठ पूजा पर दिल्ली, मुंबई, कोलकाता आदि महानगरों से आने वाली ट्रेनों में बेतहाशा भीड़ के बीच यात्री ठूंस कर आ रहे हैं। आरक्षित सीट पर बैठने में भी परेशानी हो रही है। जितनी आरक्षित सीटें हैं, उतने की लोग वेटिंग टिकट लेकर यात्रा करने को मजबूर हैं। दिल्ली से आने वाली सप्तक्रांति एक्सप्रेस, बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस, वैशाली एक्सप्रेस, मिथिला एक्सप्रेस, काठगोदाम एक्सप्रेस आदि ट्रेनों में स्लीपर बोगी में जगह नहीं मिलने पर लोग शौचालय तक में बैठकर सफर कर रहे हैं। शौचालय में यात्रियों का कब्जा होने के कारण आम यात्रियों को शौच करने में काफी परेशानी हो रही है। खास कर महिलाओं को सबसे अधिक परेशानी हो रही है। छठ पूजा को लेकर लोगों के पास सामान भी अधिक हैं। सप्तक्रांति से आए संजीव कुमार ने बताया कि दिल्ली से मुजफ्फरपुर तक के सफर में पूरी रात सो नहीं पाए। भीड़ के कारण पूरे ट्रेन में दुर्गध फैल रही थी। एसी की हालत स्लीपर से भी बदतर रही। किसी-किसी स्टेशन पर में चढ़े अवैध यात्रियों को हटाने के लिए आरपीएफ को भी बुलाया गया। कुछ यात्री जगह के अभाव में चादर से स्लीपर के बीच में ऊपर झूला बनाकर बैठ कर सफर किए। हालांकि रेलवे की ओर से कई स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं, लेकिन परिचालन सही नहीं होने और प्रचार-प्रसार नहीं होने के कारण स्पेशल ट्रेनें खाली आ रही हैं। पूर्व मध्य रेल के सीपीआरओ राजेश कुमार ने बताया कि 04036 दिल्ली से चली स्पेशल ट्रेन में एसी वन और टू में सीट उपलब्ध है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप