मुजफ्फरपुर, जेएनएन। मोतीपुर के महना गांव के निकट स्थित पेट्रोल पंप से 31 जनवरी को एक लाख 61 हजार रुपये लूट मामले में हवलदार पुत्र उदय कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वह बखरा रतनपुरा का निवासी है। उसके पिता दक्षिण बिहार के जिले में हवलदार हैं। लूट की घटना में उस पेट्रोल पंप का नोजल मैन बखरा रतनपुरा गांव का अखिलेश कुमार लाइनर था। इसके बदले उसे पांच हजार रुपये मिले थे। उसे भी गिरफ्तार कर लिया है और उसके पास से पांच हजार रुपये बरामद किए गए हैं।

 घटना में प्रयुक्त चाकू बरामद की गई है। दोनों के पास से एक देसी कट्टा, एक कारतूस, एक मोबाइल, एक चाकू व पांच हजार रुपये नकद बरामद किए गए हैं। दोनों के खिलाफ मोतीपुर थाने में पूर्व से मामले दर्ज हैं। इसकी जानकारी एसएसपी जयंत कांत ने शुक्रवार को अपने कार्यालय कक्ष में संवाददाताओं को दी। 

मास्टर माइंड समेत दो की तलाश

लूट की घटना में चार बदमाश शामिल थे। इसमें दो अब भी फरार हैं। इसमें इस कांड का मास्टर माइंड  भी शामिल है। उसी ने अखिलेश को पांच हजार रुपये का लालच देकर चुप रहने व पेट्रोप पंप के कर्मचारियों की गतिविधि व रुपये के संबंध जानकारी देने को राजी कर लिया था। 

छापेमारी दल में ये पुलिस अधिकारी थे शामिल

डीएसपी पूर्वी कृष्ण मुरारी प्रसाद, मोतीपुर थानाध्यक्ष अनिल कुमार, मोतीपुर के पुलिस अवर निरीक्षक महेश्वर मंडल, सिपाही आदित्य आनंद व चौकीदार नवल किशोर राय छापेमारी में शामिल थे। 

मानपुरा गांव में हथियार का प्रदर्शन कर दहशत फैलाने में एक गिरफ्तार

कांटी थाना के पानापुर ओपी के मानपुरा गांव में हथियार का प्रदर्शन कर दहशत फैला रहे अजीत कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से एक पिस्टल, एक देसी कट्टा, आठ कारतूस व एक मैगजीन बरामद किया गया है। छापेमारी दल में कांटी थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष विनोद दास, पानापुर ओपी अध्यक्ष मनोहर कुमार एवं कांटी व पानापुर ओपी के सशस्त्र बल शामिल थे।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस