समस्तीपुर, जासं। विभूतिपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में एक किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। पीडि़ता के बयान पर महिला थाने में तीन लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है। तीनों आरोपित की पहचान रोसड़ा के रहुआ निवासी शिवशंकर कुमार, छोटू शर्मा, सचिन कुमार के रूप में की गई है। पुलिस को दिये गए बयान में किशोरी ने कहा है कि मेरे पिता मजदूरी करने गये थे। 20 जुलाई को वह उन्हें बुलाने जा रही थी। बीच रास्ते में तीनों आरोपितों ने मुझे पकड़ कर बगल में एक गुमटी के नीचे ले गया और मेरे साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। इस बीच छिपकर वीडियो भी बना लिया। मुझे धमकी दी गई कि किसी को बताने पर पूरे परिवार को जान से मार देंगे। मैंने घर जाकर किसी को कुछ नहीं बताया लेकिन तीन चार दिन के बाद छोटू ने वीडियो को वायरल कर दिया। इसके बाद मेरे घर वालों को इस घटना की जानकारी हुई। तब इसकी शिकायत थाने में की गई। महिला थाना अध्यक्ष पुष्पलता ने बताया कि पीडि़ता के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। तीन लोगों को आरोपित किया गया है। गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

किशोरी ने प्रेम प्रसंग में रचा ली शादी

विभूतिपुर । थाना क्षेत्र के एक गांव स्थित अपने दादी के मायके में रहकर पढ़ाई कर रही किशोरी का अपहरण विगत 2 जून 2020 को कतिपय लोगों ने कर लिया था। इस अपहृता को पुलिस ने बरामद कर लिया है। साथ हीं बयान दर्ज कराने हेतु न्यायालय भेज दिया है। यह जानकारी थानाध्यक्ष चन्द्र कांत गौरी ने दी । बताया कि घटना को लेकर अपहृता की मां द्वारा विभूतिपुर थाने में एक प्राथमिकी दर्ज करवायी गयी थी। जिसमें कहा था कि उसकी नाबालिक पुत्री अपने दादी के साथ उसके मायके में रहकर पढ़ाई कर रहीं थी। कोङ्क्षचग के लिए घर से निकली। जब वापस नहीं लौटी तो उसके दोस्त और शिक्षण संस्थान से भी पता किया गया पर कोई जानकारी नहीं मिली। उसकी निकटतम सहेली ने भी पूछने पर कुछ नहीं बताया। मिली जानकारी के मुताबिक किशोरी ने प्रेम प्रसंग में शादी रचा ली है और वह गर्भवती भी है।