मधुबनी (बेनीपट्टी), जासं। बेनीपट्टी प्रखंड के दामोदरपुर गांव में रविवार को खाने बनाने के दौरान गैस सिलेंडर विस्फोट कर गया। इस दुर्घटना में एक दर्जन लोग झुलसकर जख्मी हो गए। वहीं, सिलेंडर विस्फोट करने से दो घर जल गए। इन घरों में रखा एक लाख नगद के साथ करीब छह लाख रुपये की संपत्ति जलकर राख हो गई। सिलेंडर विस्फोट करते ही चारो तरफ अफरातफरी मच गई। चारों तरफ लोगों की चीख-पुकार मच गई। लोग घटनास्थल की ओर दौड़ पड़े।

जख्मियों में दस को दामोदरपुर में प्राथमिकी उपचार के बाद डीएमसीएच भेज दिया गया है। घटना के बाद से गांव में मातम व दहशत का माहौल है। जानकारी के मुताबिक, दामोदरपुर गांव में संतोष झा के घर में उनकी पत्नी राधा देवी गैस सिलेंडर में नया रेगुलेटर लगाकर खाना बनाने की तैयारी में थी। चूल्हा जलाने के लिए माचिस जलाते ही गैस रेगुलेटर में आग लग गई। आग लगने के बाद लोग घर से भागने लगे। वहीं, आग लगने की सूचना मिलते ही अगल-बलग के लोग बचाव में जुटे। इसी बीच सिलेंडर तेज आवाज के साथ विस्फोट कर गया। सिलेंडर विस्फोट करते ही बगल का घर भी आग की चपेट में आ गया।

इस दौरान आग से बचने एवं लोगों को बचाने के क्रम में एक दर्जन लोग झुलस गए। सिलेंडर विस्फोट करते ही घर धू-धू कर जलने लगा। सूचना पर बेनीपट्टी से अग्निशामक वाहन पहुंचा और आग पर काबू पाया गया। आग में झूलसने से घायलों में डॉ. महेश ठाकुर, अरविन्द मिश्र, कौशल्या देवी, रेणु देवी, ममता देवी, आनंद झा, रिंकू देवी, प्रांजली देवी, सत्यम, अनिता देवी, मंजू देवी, राजन कुमार को इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां चिकित्सकों ने हालत नाजुक देख डीएमसीएच रेफर कर दिया है। गंभीर रूप से घायल प्रांजली देवी, अनिता देवी, रेणु देवी, कौशल्या देवी की हालत चिंताजनक बताई जा रही है। दामोदरपुर पंचायत के मुखिया विनय कुमार झा ने घटना की सूचना पुलिस को दी। थानाध्यक्ष अरविन्द कुमार ने त्वरित कार्रवाई करते हुए अग्निशामक वाहन को भेज घटना स्थल व पीएचसी पहुंच जांच शुरू कर दी।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh