मुजफ्फरपुर, जेएनएन। Muzaffarpur Flood News : जिले में एक ओर जहां बागमती, बूढ़ी गंडक और लखनदेई के जलस्तर में गिरावट होने लगी है, वहीं अब गंडक में उफान आ गया है। शुक्रवार को रेवाघाट में गंडक नदी के जलस्तर में 23 सेमी की वृद्धि हुई है। यहां 54.02 मीटर दर्ज किया गया जो डेंजर लेबल से 0.39 सेमी कम है। इधर, जलस्तर में गिरावट के बावजूद बागमती और लखनदेई लाल निशान से ऊपर बह रही है। जबकि, बूढ़ी गंडक के जलस्तर में लगातार गिरावट जारी है। शुक्रवार को कटौझा में बागमती का जलस्तर खतरे के निशान से 0.92 सेमी ऊपर 54.65 मीटर और बेनीबाद में खतरे के निशान 48.68 मीटर से 0.78 सेमी ऊपर 49.45 मीटर दर्ज किया गया।

गायघाट के बोराबारी में लखनदेई नदी का जलस्तर खतरे के निशान 42.00 मीटर से 1.05 मीटर ऊपर 43.05 मीटर दर्ज किया गया है। सिकंदरपुर में बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर खतरे के निशान 52.53 मीटर से 34 सेमी नीचे 52.19 मीटर दर्ज किया गया। मुरौल के दलौल घाट में बूढ़ी गंडक का जलस्तर खतरे के निशान 48.25 मीटर से 1.35 मीटर ऊपर 49.60 मीटर और अहिरवलिया में खतरे के निशान 59.62 से 1.76 मीटर नीचे 57.86 मीटर दर्ज किया गया। कुढऩी के शाहपुर मरीचा में नून नदी का जलस्तर 48.80 मीटर दर्ज किया गया है।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस